DA Image
19 सितम्बर, 2020|11:47|IST

अगली स्टोरी

जैन स्तंभ को किया जाएगा शिफ्ट

default image

नेशनल हाईवे 58 को टोल रोड के रूप में विकसित करने का कार्य लगातार जारी है। इस मार्ग में जो धर्म स्थल चौड़ीकरण की जद में आ रहे थे उसमें से एक धर्मस्थल को करीब दो साल पहले दूसरे स्थान पर शिफ्ट कर दिया गया था। जबकि एक धर्मस्थल के लिए जगह नहीं मिल पा रही थी। अब समाज में अन्य लोगों की आपसी सहमति से इस धर्मस्थल को भी हाईवे से 200 मीटर भीतर मेनबाजार चौक में स्थापित किए जाने की तैयारी की जा रही है। जैन समाज करीब 10 लाख रुपए की लागत से भव्य जैन स्तंभ का निर्माण करेगा।

राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 को टोल रोड के रूप में विकसित करने का कार्य प्रगति पर है। हाईवे पर सर्विस लेन के स्थान पर दो धर्मस्थल आमने सामने बने थे जिनमें एक मस्जिद थी जो कि करीब डेढ़ सौ वर्ष पुरानी बताई जाती थी। आपसी सहमति से समाज के लोगों ने करीब 2 वर्ष पूर्व इस मस्जिद को वहां से हटाकर दूसरे स्थान पर बना लिया था। उसके ठीक सामने जैन स्तंभ स्थापित है। उसके लिए भी लगातार प्रयास चल रहे थे। लेकिन जगह का चिह्निकरण नहीं हो पा रहा था। जैन समाज नेशनल हाईवे अथॉरिटी तथा नगर पालिका द्वारा संयुक्त रूप से वार्ता की गई। इसके बाद यह तय हुआ कि जैन स्तंभ को हाईवे से हटाकर बाजार में करीब 200 मीटर भीतर मेन बाजार चौक पर स्थापित किया जाएगा। इस संबंध में नगरपालिका के चेयरमैन हाजी दिलशाद अली तथा अधिशासी अधिकारी शाहिद अली द्वारा जैन समाज के लोगों के साथ वार्ता कर स्थान चयनित किया गया। जिस पर कार्य शुरू हो गया है। जैन समाज के डॉ. संजीव जैन ने बताया कि जैन समाज अपने स्तर से भव्य जैन स्तंभ का निर्माण करेगा। इसमें अनुमानित 10 लाख रुपए की लागत आने की संभावना है। उन्होंने कहा कि जैन स्तंभ के साथ वहां के सौंदर्यीकरण का कार्य भी समिति अपने आप करेगी।