DA Image
24 जनवरी, 2020|7:28|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भगवानपुर स्वास्थ्य में डॉक्टर की कमी से मरीज परेशान

भगवानपुर कस्बे में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर चिकित्सकों के अभाव के चलते केंद्र रेफर सेंटर बनकर रह गया है। गौरतलब हो कि कस्बा भगवानपुर में दशकों पूर्व बने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जब बनकर तैयार हुआ तो क्षेत्र के ग्रामीण को अच्छा इलाज स्थानीय स्तर पर मिलने की उम्मीद जगी थी। मगर ग्रामीणों की उम्मीदों पर साल-दर-साल पानी फिरता नजर आ रहा है।कस्बे में करोड़ों की लागत से बना यह चिकित्सा केंद्र चिकित्सकों की कमी के चलते सफेद हाथी बनकर रह गया है। उक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कम से कम 8 चिकित्सक होने अनिवार्य थे, लेकिन उक्त केंद्र पर मात्र 2 ही चिकित्सक होने पर ग्रामीणों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ता है। जिसमें फिजिशियन, हड्डी रोग, महिला रोग विशेषज्ञ, नाक-कान में गला के चिकित्सकों की तैनाती होना जरूरी है, ऐसे में पिछले कई वर्षों से यहां इलाज की उम्मीद लेकर आए सैकड़ों मरीजों को रेफर कर दिया जाता है। चिकित्सा अधिकारी डॉ. विक्रांत सिरोही ने बताया कि उन्होंने कई बार चिकित्सकों की कमी के बारे में शासन को अवगत कराया है, लेकिन चिकित्सकों को तैनाती नहीं मिल पाई। जिससे मरीजों को दिक्कत झेलनी पड़ रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Godpur CH.C. has been transformed into Refer Center