DA Image
27 नवंबर, 2020|11:13|IST

अगली स्टोरी

किसानों ने एकजुटता पर दिया जोर

default image

अखिल भारतीय किसान यूनियन की बैठक में आगामी गन्ना पेराई सत्र को लेकर चर्चा की गई। पिछले सत्र में हुई परेशानी को दूर करने के लिए एकजुटता पर जोर दिया गया।

गांव मंडावली में हुई बैठक में अखिल भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष चौधरी रामपाल सिंह ने कहा कि गत पेराई सत्र में गन्ना किसानों की भारी फजीहत हुई थी। जिसे इस बार कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

अखिल भारतीय किसान यूनियन गांव-गांव जाकर आगामी पेराई सत्र के लिए किसानों के साथ चर्चा कर रहा है। कहा कि गन्ना किसान की पीड़ा लगातार बढ़ती जा रही है। समस्याएं कम होने के बजाय और विकट हो रही है। किसानों की एकजुटता नहीं होने का फायदा चीनी मिल प्रबंधन उठा रहा है। अब किसान चीनी मिल प्रबंधन की नीयत को अच्छी तरह से समझ चुका है। किसानों को परेशान किया गया तो चीनी मिल प्रबंधन के खिलाफ आवाज उठाई जाएगी। उन्होंने कहा कि अभी तक किसानों को गन्ने का बकाया भुगतान नहीं किया गया है, जिससे किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। किसानों की हालात लगातार कमजोर होती जा रही है।

बैठक में हरपाल सिंह, संजीव कुमार, वेदपाल सिंह, विजय कुमार आदि ने भी अपने विचार रखे। उन्होंने भी किसानों से एकजुटता की अपील की। कहा कि किसान कमजोर नहीं है। लेकिन उसे कमजोर बनाने की लगातार साजिश रची जा रही है। बैठक में सचिन कुमार,विवेक कुमार, जय सिंह, प्रभु शरण, सुरेंद्र सिंह, वीरेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे।