DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गन्ना भुगतान नहीं होने से किसानों में गुस्सा

उत्तराखंड किसान मोर्चा की मासिक बैठक पंचायत प्रशासनिक भवन में ब्रजपाल सिंह की अध्यक्षता और चौधरी सुरेंद्र लंबरदार के संचालन में हुई। बैठक में गन्ना भुगतान नहीं होने पर सरकार के प्रति आक्रोश व्यक्त किया गया।पंचायत को संबोधित करते हुए चौधरी गुलशन रोड और चौधरी धर्मवीर सिंह प्रधान ने कहा कि उत्तराखंड में जब से भाजपा की सरकार बनी है। गन्ना मिलें किसानों का गन्ना भुगतान दबाकर बैठ गई है। जब से सरकार बनी है, किसानों पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। सरकार ने एक भी पैसे का भुगतान नहीं कराया है। जिससे किसानों में आक्रोश है। किसान पंचायत कर निर्णय लेकर सरकार के खिलाफ बड़े आंदोलन की रूपरेखा तैयार करेंगे। मोहम्मद आजम और चौधरी राजपाल सिंह ने कहा कि नारसन क्षेत्र के किसानों के सिंचाई शुल्क का रेट चार गुणा कर दिया गया है। इसे किसान बर्दाश्त नहीं करेंगे और किसान पैसा जमा नहीं करेंगे। मौके पर उन्होंने हरिद्वार को मंडल बनाने की बात कही। पंचायत में धर्मेंद्र, नरेश लोहान, मकर सिंह, सेवाराम, अब्दुल गनी, अनिल सैनी, वीरेंद्र सैनी, जगदीश सैनी, इरशाद, योगेश पंवार, मोहम्मद जाबिर, मुकर्रम, जनेश्वर सैनी, महेंद्र सैनी, बिरम सैनी आदि लोग उपस्थित रहे।000भाकियू का वार्षिक अधिवेशन 11 सेभारतीय किसान यूनियन की बैठक मतलबपुर में राजेंद्र सिंह की अध्यक्षता और अनिल कुमार के संचालन में हुई। बैठक में जिलाध्यक्ष पहल सिंह पंवार ने अपनी जिला कार्यकारिणी का विस्तार किया तथा किसानों की गन्ना मूल्य भुगतान और कर्ज माफी के विषय में विचार किया। बैठक में भाकियू का वार्षिक अधिवेशन 10,11 व 12 जून को होटल अलकनंदा मैदान में होने की बात बताई। बैठक में नितिन कुमार, चौधरी अनिल कुमार, सतीश कुमार, महक सिंह, संजय कुमार, रविंद्र कुमार, ऋषिपाल, संदीप कुमार, सागर सिंह, सुनील सैनी आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Farmers' anger begins to burst against government