DA Image
1 अगस्त, 2020|4:44|IST

अगली स्टोरी

लक्सर में दस घंटे से बिजली व पेयजल की आपूर्ति ठप

default image

देर रात बारिश और तेज हवा से क्षेत्र में बिजली आपूर्ति बाधित हो गई। इसके चलते लक्सर नगर के साथ ही देहात क्षेत्र में दस से बारह घंटे तक अंधेरा छाया रहा। बिजली न आने के कारण कस्बे में सुबह के समय लोगों को पीने के पानी की आपूर्ति भी नहीं मिली। शनिवार दोपहर में फाल्ट ठीक कर आपूर्ति सुचारू की गई।

शुक्रवार आधी रात के आसपास आसमान में अचानक बादल घिर आए और फिर तेज बारिश होने लगी। बारिश के साथ ही हवाएं चलने की वजह से बिजली की लाइन में फाल्ट आ गया, जिस कारण नगर व देहात क्षेत्र में रात करीब एक बजे से ही बिजली की आपूर्ति ठप हो गई। इसके करीब ढाई तीन घंटे बाद नगरीय क्षेत्र में बिजली एक बार आ भी गई, पर सुबह ही इसमें दोबारा फाल्ट हो गया। नतीजा यह हुआ कि बिजली की कमी के कारण नगर के लोगों को सुबह में पेयजल की आपूर्ति भी नहीं मिल सकी।

दिनेश अग्रवाल, अक्षय मित्तल, अरुण भगत, राकेश गोयल ने बताया कि बिजली जाने के करीब तीन-चार घंटे बाद ही घरों में लगे इनवर्टर भी दम तोड़ गए, जिस कारण लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। उधर, गोवर्धनपुर, खानपुर, रायसी व भट्ठीपुर फीडर से जुड़े करीब सौ गांवों में भी लोगों को पूरी रात अंधेरे में रहना पड़ा। सुबह होते ही उर्जा निगम के अधिकारी और कर्मचारी फाल्ट तलाशने में जुट गए। दोपहर करीब दो बजे तक फाल्ट को ठीक कर नगर व कुछ गांवों की आपूर्ति बहाल कर दी गई थी। एसडीओ अमीचंद राणा ने बताया कि अधिकांश जगहों पर आपूर्ति सुचारू कर दी गई है। शेष जगह भी फाल्ट को ठीक करने का प्रयास किया जा रहा है। जल्द ही पूरे क्षेत्र की आपूर्ति ठीक कर दी जाएगी।

000

लक्सर में हुई सबसे ज्यादा बारिश

रुड़की। आईआईटी रुड़की स्थित कृषि मौसम वैधशाला के अनुसार हरिद्वार जिले में नारसन विकासखंड में 76, लक्सर में 91, बहादराबाद क्षेत्र में 22 और रुड़की में 36 एमएम बारिश रिकार्ड की गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Electricity and drinking water supply stalled in Luxor for ten hours