DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  रुड़की  ›  डॉक्टरों ने काला फीता बांधकर काम किया

रुडकीडॉक्टरों ने काला फीता बांधकर काम किया

हिन्दुस्तान टीम,रुडकीPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:10 PM
डॉक्टरों ने काला फीता बांधकर काम किया

आईएमए और बाबा रामदेव के बीच चल रहे विवाद में प्रांतीय चिकित्सा स्वास्थ्य सेवा संघ भी आईएमए के साथ खड़ा हो गया है। सिविल अस्पताल में संघ से जुड़े चिकित्सकों ने कार्यस्थल पर काली पट्टी बांधकर काम किया। बाबा रामदेव के बयान का विरोध करते हुए आईएमए का समर्थन किया।

एलोपैथिक चिकित्सा पद्वति को लेकर बाबा रामदेव के बयान से आईएमए ने नाराजगी जतायी थी। इस मामले में आईएमए ने बाबा रामदेव को नोटिस भेजा था। बाबा रामदेव ने विवाद को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन उनकी ओर से फिर से सवाल उठा दिए गए। बयानबाजी पर बाबा रामदेव के खिलाफ आईएमए ने भी मोर्चा खोल दिया है। बयानबाजी का यह सिलसिला लगातार जारी है। लेकिन अब इस लड़ाई में उत्तराखंड प्रांतीय चिकित्सा स्वास्थ्य सेवा संघ भी सामने आया है। 31 मई को उत्तराखंड प्रांतीय चिकित्सा स्वास्थ्य सेवा संघ के सचिव ने पत्र लिखकर संघ से जुडे़ लोगों को आईएमए के समर्थन में काली पट्टी बांधकर कार्य करने को कहा था।

मंगलवार को रुड़की सिविल अस्पताल में सेवा संघ से जुड़े चिकित्सकों ने अपने कार्य स्थल पर काली पट्टी बांधकर बाबा रामदेव के द्वारा चिकित्सकों के खिलाफ की गयी बयानबाजी का विरोध दर्ज कराया। इस दौरान सीएमएस डॉ. संजय कंसल, उत्तराखंड प्रांतीय चिकित्सा स्वास्थ्य सेवा संघ की संयुक्त सचिव गढ़वाल डॉ. अर्चना वर्मा, डॉ. मनीष दत्त, डॉ. एके श्रीवास्तव, डॉ. महेश खेतान, डॉ. रितु खेतान, डॉ. कोमल, डॉ. गरिमा, डॉ. आयुषि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें