DA Image
29 फरवरी, 2020|5:54|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री से की गन्ना भुगतान की मांग

default image

भारतीय किसान क्लब के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी कटार सिंह ने कहा कि प्रशासन गन्ना भुगतान दिलाने में असमर्थ रहे हैं। इकबालपुर शुगर मिल 2017.18 का भुगतान मिलाने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, जिलाधिकारी हरिद्वार को पत्र भेजा है। चौधरी कटार सिंह ने कहा कि इकबालपुर शुगर मिल 2019.20 पेराई सत्र का गन्ना भुगतान करने से पूर्व गत वर्षों 2017.18 और 2018.19 का बकाया गन्ना भुगतान किसानों को दिया जाए। शासन प्रशासन द्वारा टैगिंग आदेश पारित किए गए थे कि इस वर्ष चालू सत्र में जो गन्ने से चीनी निकलेगी उसमें से 77 प्रतिशत किसानों को गन्ना भुगतान देना होगा। इस आदेश का पालन शासन प्रशासन व शुगर मिल कराने में पूरी तरह असफल रहा है। लगातार किसानों के साथ धोखा किया जा रहा है। उन्होंने इकबालपुर शुगर मिल प्रबंधन पर आरोप लगाया कि मिल नगद गन्ना खरीद रहा है, इससे गन्ना ठेकेदार प्रथा को बढ़ावा मिल रहा है जो किसान हित में नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार को किसानों की चिंता नहीं है। किसान अपने आवश्यक कार्यों के लिए कर्ज ले रहा है, किसान कर्ज के बोझ तले दबता जा रहा है। किसान नेता चौधरी कटार सिंह ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत, जिलाधिकारी हरिद्वार, मुख्य सचिव, गन्ना समिति सभापति को अतिशीघ्र भुगतान दिलाने की मांग को लेकर पत्र भेजा है।