DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  रुड़की  ›  मेयर पर पार्षदों ने भ्रष्टाचार के आरोप लगाए

रुडकीमेयर पर पार्षदों ने भ्रष्टाचार के आरोप लगाए

हिन्दुस्तान टीम,रुडकीPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 10:20 PM
मानसून को देखते हुए शहर के नालों की सफाई के लिए बुलाया गए नगर निगम बोर्ड के विशेष अधिवेशन में जमकर हंगामा...
1 / 3मानसून को देखते हुए शहर के नालों की सफाई के लिए बुलाया गए नगर निगम बोर्ड के विशेष अधिवेशन में जमकर हंगामा...
मानसून को देखते हुए शहर के नालों की सफाई के लिए बुलाया गए नगर निगम बोर्ड के विशेष अधिवेशन में जमकर हंगामा...
2 / 3मानसून को देखते हुए शहर के नालों की सफाई के लिए बुलाया गए नगर निगम बोर्ड के विशेष अधिवेशन में जमकर हंगामा...
मानसून को देखते हुए शहर के नालों की सफाई के लिए बुलाया गए नगर निगम बोर्ड के विशेष अधिवेशन में जमकर हंगामा...
3 / 3मानसून को देखते हुए शहर के नालों की सफाई के लिए बुलाया गए नगर निगम बोर्ड के विशेष अधिवेशन में जमकर हंगामा...

मानसून को देखते हुए शहर के नालों की सफाई के लिए बुलाया गए नगर निगम बोर्ड के विशेष अधिवेशन में जमकर हंगामा हुआ। पार्षदों ने मेयर पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए। पार्षद और महापौर के बीच तीखी नोंकझोक हुई। मामले में ज्यादा गरमागरमी होने पर महापौर बीच में ही बोर्ड बैठक को छोड़कर चले गए। हालांकि बाद में अधिकारियों के समझाने बुझाने पर फिर से बोर्ड बैठक को शुरू कराया गया। अधिवेशन में पार्षदों ने यह भी तय किया कि पांच पार्षदों की समीति नाला सफाई अवलोकन करेगी। समीति की जांच के निर्णय के बाद ही इस भुगतान देने पर भी सहमति बनी।

शहर में बरसात के दिनों में होने वाले जलभराव को देखते हुए नालों की सफाई होनी है। इसको देखते हुए नगर निगम रुड़की की ओर से सोमवार को निगम के ऑडिटोरियम में विशेष बोर्ड बैठक बुलाई गई। बोर्ड बैठक में केवल नालों की सफाई से संबंधित ही प्रस्ताव रखा गया। सहायक नगर आयुक्त चंद्रकांत भट्ट ने बोर्ड बैठक के औपचारिकताएं पूरी कराने के बाद बोर्ड बैठक शुरू कराई। उन्होंने बताया कि बरसात से पहले छोटे-बड़े नालों की सफाई जरूरी है। इसके लिए आउट सोर्स से चार माह के लिए नाला गैंग के 200 कर्मचारियों की जरूरत है। इसके अलावा लोडर, जेसीबी एवं ट्रैक्टर ट्रालियों आदि की जरूरत है। उन्होंने पूरा प्रस्ताव पढ़कर सुनाया। पार्षद नितिन त्यागी ने कहा कि पिछले साल नाला गैंग में रखे गए कर्मचारियों के मामले में भ्रष्टाचार की जांच चल रही है। इसलिए इस कार्य के लिए पार्षदों के पांच सदस्यों की एक समिति बनाई जाए। जो इस कार्य की देखरेख करेगी। समिति की अनुमति के बिना कोई भुगतान न किया जाए। इसी दौरान पार्षद नितिन त्यागी ने कहा कि मेयर ने ठेकेदारों के भुगतान रोकने पर भी सवाल खड़े कर दिए। इसको लेकर खुले मंच से ही पार्षद ने मेयर पर एक के बाद एक भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाने शुरू कर दिए। महापौर गौरव गोयल ने भी पार्षद के इन आरोपों का खंडन करते हुए आरोप लगाने शुरू कर दिए। जिसके बाद पार्षद और मेयर के बीच तीखी नोंकझोक शुरू हो गई। कुछ अन्य पार्षदों ने भी मेयर पर आरोप लगाने शुरू कर दिए। इस ही बीच मेयर कुर्सी छोड़कर बैठक छोड़कर सभागार से बाहर निकल आए। नगर आयुक्त नूपुर वर्मा, सहायक नगर आयुक्त चंद्रकांत भट्ट, पार्षद विवेक चौधरी ने पार्षदों को समझा बुझाकर शांत कराया। जबकि इस दौरान ही झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल भी वहां पहुंच गए। जिसके बाद कुछ ही देर में मेयर बोर्ड बैठक में शामिल हुए। इसके बाद बोर्ड फिर से शुरू की गई। बैठक में पांच पार्षदों की एक समिति बनाने और कार्य की जांच के बाद ही उसका भुगतान किए जाने पर सहमति बनी।

यह रहे पार्षद मौजूद

नगर निगम के विशेष बोर्ड अधिवेशन में पार्षद अंजू, पार्षद, राजेश्वरी देवी, पार्षद देवकी जोशी, पार्षद दया शर्मा, पार्षद वीरेंद्र गुप्ता, पार्षद मंयक पाल, पार्षद प्रमोद पाल, पार्षद विवेक चौधरी, पार्षद नवनीत शर्मा, पार्षद हेमा देवी, पार्षद नीतू शर्मा, पार्षद मिनाक्षी तोमर,पार्षद स्वाति चौधरी, पार्षद विनिता रावत, पार्षद शिवानी कश्यप, पार्षद धीराज सिंह, पार्षद राकेश गर्ग, पार्षद शक्ति सिंह,पार्षद अनूप सिंह,पार्षद धीरजपाल, पार्षद चारुचंद्र, पार्षद चंद्रप्रकाश वर्मा, पार्षद आशीष अग्रवाल,पार्षद संजीव राय, पार्षद मौसील अली, पार्षद रेशमा प्रवीन,पार्षद कमरेज, पार्षद नितिन त्यागी, नामित पार्षद अमित प्रजापति, नामित पार्षद धर्मवीर शर्मा, नामित पार्षद आशुतोष सिंह, नामित पार्षद अनुज कुमार।

000

विकास कार्यों कराए जाएं

पार्षद विवेक चौधरी और आशीष अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार ने विकास कार्यों को कोरोना काल में जारी रखने के निर्देश जारी किए हैं। ऐसे में रुड़की नगर निगम में बोर्ड में पास विकास कार्यों को किस आधार पर रोका गया है। विवेक चौधरी ने कहा कि करीब 80 विकास कार्यों के वर्क आर्डर भी जारी हो चुके हैं। लेकिन कार्यों को होने का अभी भी इंतजार है।

यह हैं समीति के पांच नाम

पार्षदों ने बैठक कर समीति के पांच पार्षदों के लिए नाम चुनने को लेकर भी बैठक की। जिसमें पार्षदों ने आपसी रजामंदी से चारु चंद्र्र, नितिन त्यागी, देवकी जोशी, चंद्र प्रकाश वर्मा और नीतू सिंह के नाम पर सहमति बनी।

संबंधित खबरें