DA Image
22 सितम्बर, 2020|11:03|IST

अगली स्टोरी

सीबीआई जांच की मांग

default image

अखिल भारतीय सफाई मजदूर संघ एवं उत्तराखण्ड वाल्मीकि समाज ने प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर हरियाणा जेल में हुई रमन वाल्मीकि की मौत की सीबीआई जांच की मांग की है। रुड़की में उपजिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में कहा कि हरियाणा राज्य के यमुनानगर के रमन वाल्मीकि का संदिग्ध परिस्थितियों में जेल में निधन होना न सिर्फ वाल्मीकि समाज अपितु समूचे अनुसूचित वर्ग के लिए अघात है। रमन वाल्मीकि युवा वर्ग के लिए आदर्श नेता थे। जेल प्रशासन की अस्पष्ट व जल्दबाजी में की गई कार्रवाई पूरे अनुसूचित वर्ग में रोष का माहौल बना रही है। माफिया व असामाजिक तत्वों के विरुद्ध बुलंद आवाज बन करे खड़े मानसिक व शारीरिक रूप से मजबूत वीर रमन वाल्मीकि का अचानक से मृत्यु हो जाना एक अनबुझे षड्यंत्र की और इशारा करता है। मांग की कि संदिग्ध मृत्यु की सीबीआई जांच, परिवार को एक करोड़ का मुआवजा, आश्रित को सरकारी नौकरी एवं शहीद का दर्जा दिया जाए। इस मौके पर सफाई कर्मचारी आंदोलन के प्रदेश संयोजक अमर बैनीवाल, अखिल भारतीय सफाई मजदूरसंघ के अध्यक्ष सुधीर टॉक, महासचिव विनेश, तहसील प्रभारी नरेश घोगलिया, सहसचिव रवि चौटाला, अशोक कुमार,राजीव कुमार आदि मौजूद रहे।