DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दहेज उत्पीड़न के अलग-अलग मामलों में आठ पर केस

दहेज उत्पीड़न के अलग-अलग मामलों में पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस को दी तहरीर में सोहलपुर गाड़ा निवासी रूबीना ने बताया कि 21 नवंबर 2014 को उसकी शादी रसूलपुर निवासी सहताब के साथ हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद ही ससुराल वाले दहेज के लिए उसका उत्पीड़न करने लगे। शादी बचाने के लिए वह सब कुछ सहती रही। कुछ दिनों से ससुराल वाले दहेज में दस लाख रुपये और कार की मांग करने लगे। मांग पूरी नहीं होने पर उसे घर से निकाल दिया गया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर पति सहताब, ससुर इकबाल, सास शाहीन और एक अन्य रिश्तेदार तंजीम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं, कृष्णा नगर निवासी मीना उर्फ मीनू ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि उसकी शादी 28 फरवरी 2017 को रामऋषि के साथ हुई थी। आरोप है कि शादी में दिए गए दान-दहेज से ससुराल पक्ष के लोग खुश नहीं थे। वह लगातार उसका दहेज के लिए उत्पीड़न कर रहे थे। ससुराल वालों ने पिछले कुछ दिनों से दहेज में कार की मांग की। इसमें असमर्थता जताने पर ससुराल वालों ने उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। पुलिस ने पति रामऋषि, देवर राजू, ससुर जयपाल और सास रुकमणि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। इंस्पेक्टर गंगनहर कमल कुमार लुंठी ने बताया कि दोनों मामलों में मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Case on eight in different cases of dowry harassment