DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › रुड़की › भारतीय किसान यूनियन अंबावत ने आगामी आंदोलनों की रूपरेखा तैयार की
रुडकी

भारतीय किसान यूनियन अंबावत ने आगामी आंदोलनों की रूपरेखा तैयार की

हिन्दुस्तान टीम,रुडकीPublished By: Newswrap
Sun, 19 Sep 2021 06:20 PM
भारतीय किसान यूनियन अंबावत ने आगामी आंदोलनों की रूपरेखा तैयार की

भारतीय किसान यूनियन अंबावत की सभा दिल्ली रोड स्थित एक होटल में आयोजित की गई। जिसमें किसान नेताओं ने कृषि बिल एवं सरकार की नीतियों के खिलाफ अपना संबोधन दिया। वहीं आगामी चुनाव 2022 के लिए अपनी रणनीति बनाई। इसके साथ ही आगामी आंदोलनों की रूपरेखा तैयार की।

दिल्ली रोड आयोजित एक सभा में बोलते हुए किसान यूनियन अंबावत के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ऋषिपाल अंबावत ने कहा कि 2022 के उत्तराखंड चुनाव में उस प्रत्याशी को समर्थन देंगे जो किसानों के हितों की बात करता हो। साथ ही उन्होंने कहा कि अब किसानों के पास पैसा नहीं है और देश की सरकार किसानों को लूटने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर अच्छे पूंजीपतियों का साथ यदि हम किसानों को मिलता है तो हम निश्चित रूप से हम अपने किसान प्रत्याशी मैदान में उतारकर अपने एमपी व एमएलए बनाएंगे जो कि सदन में जाकर भी किसान हितों की लड़ाई लड़ें।

कार्यक्रम में पहुंचे विधायक अवतार सिंह भड़ाना ने कहा कि आज देश की सरकार ने तीन कृषि कानून बनाकर किसानों के ऊपर थोपें हैं उन्हें अगर सरकार ने जल्द से जल्द वापस न लिया तो वह किसानों के साथ खड़े होकर भाजपा को जड़ से उखाड़ फेंकने का काम करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि आज देश का किसान गरीबी की कगार पर आ गया है। अब वक्त आ गया है कि अब देश से किसान विरोधी सरकार को उखाड़ देखना है। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष विकास सैनी, राष्ट्रीय सचिव नितिन चौधरी, युवा प्रदेश अध्यक्ष परविंद्र चौधरी, जोगेंद्र चौधरी प्रदेश महासचिव योगेश चौधरी, प्रदेश उपाध्यक्ष जिला अध्यक्ष अनिल चौधरी आदि किसान उपस्थित रहे।

संबंधित खबरें