DA Image
23 सितम्बर, 2020|6:29|IST

अगली स्टोरी

डकैती में बावरिया और छिमार गैंग शक के दायरे में

कलियर के माजरी-गुम्मावाला में डकैती की घटना में पुलिस का शक बावरिया और छिमार गैंग की ओर घूम रहा है। दोनों गैंगों के बारे में पुलिस जानकारी जुटा रही है। पुलिस ने लूट और डकैती के पुराने मामलों में जेल जा चुके कई संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।शनिवार रात को माजरी-गुम्मावाला गांव में आठ से दस बदमाशों ने किसान महिपाल के घर में घुसकर परिवार के सदस्यों को बंधक बनाकर लाखों की डकैती डाली थी। बदमाशों ने घर के सदस्यों के साथ जमकर मारपीट भी की थी। पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ डकैती का मुकदमा दर्ज किया है। मामले में दस टीमें बदमाशों की तलाश कर रही है। पुलिस का शक बावरिया और छिमार गैंग की ओर घूम रहा है। डकैती के समय बदमाशों के हाथ में लाठी-डंडे थे और उसके आगे लोहा लगा हुआ था। जिससे लाठी-डंडे घातक हो जाएं। बावरिया और छिमार गैंग भी वारदात के समय इस तरह के हथियारों का प्रयोग करते हैं। पुलिस की टीमें दोनों गैंगों पर नजर रख रही है। दोनों गैंग जब डकैती डालते हैं तो उसमें दस से बीस बदमाश शामिल रहते हैं। माजरी गुम्मावाला में थी बदमाशों की संख्या दस के आसपास थी। पुलिस ने लूट और डकैती के पुराने मामलों में जेल जा चुके कई संदिग्धों को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। एसपी देहात मणिकांत मिश्रा का कहना है कि पुलिस सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच कर रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bawaria and Chimarra in the robbery