DA Image
28 सितम्बर, 2020|3:41|IST

अगली स्टोरी

धार्मिक स्थल निर्माण पर प्रशासन का पुतला फूंका

default image

चेतावनी के बावजूद नगरीय क्षेत्र में बन रहे धार्मिक स्थल का निर्माण नहीं रोकने से नाराज हिंदू संगठनों ने कस्बे में बालावाली तिराहे पर प्रदर्शन कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने प्रशासन का पुतला जलाकर चेतावनी दी कि चौबीस घंटे बाद वे लोग खुद मौके पर जाकर निर्माण रुकवाएंगे।

बुधवार को हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों ने एसडीएम से मिलकर नगर के वार्ड पांच में बिना अनुमति के धार्मिक स्थल का निर्माण कराने की शिकायत की थी। आरोप लगाया कि प्रशासन ने 100 वर्गफुट का स्थल ध्वस्त किया था। जबकि अब तीन हजार वर्गफुट से भी ज्यादा क्षेत्र में निर्माण हो रहा है। साथ ही ध्वस्त किए गए धार्मिक का स्वरूप भी बदला जा रहा है। उन्होंने प्रशासन को निर्माण रोकने के लिए एक दिन का अल्टीमेटम दिया था। पर गुरुवार को भी निर्माण जारी रहा। पता चलने पर हिंदू संगठनों से जुड़े लोग बालावाली तिराहे पर इकट्ठा हुए तथा प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। उन्होंने प्रशासन का पुतला जलाकर चेतावनी दी कि कल तक निर्माण नहीं रुका तो वे खुद मौके पर जाकर इसे रुकवाएंगे। इससे माहौल खराब हुआ तो इसकी जिम्मेदारी प्रशासन व पुलिस की होगी। इस दौरान स्वतंत्र सैनी, सुभाष सैनी, अजय वर्मा, राकेश त्यागी, जोधसिंह, दीप सिंह, मोहन कश्यप, विशाल प्रजापति, रुपचंद, दिवाकर, जसपाल राणा, अश्विनी चौधरी, मनीष चौहान, सतीश मल्होत्रा, कृष्णपाल चौहान आदि थे। उधर, एसडीएम पूरण सिंह राणा का कहना है कि सरकारी जमीनों पर बने धार्मिक स्थलों को सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट व शासन के आदेश पर शिफ्ट किया जा रहा है। इसमें अलग से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Administration 39 s effigy burnt on religious site construction