DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फर्जी लिमिट बनाकर बीस लाख हड़पने का आरोप

लक्सर निवासी व्यक्ति ने बैंक अधिकारियों पर उसकी फर्म का फर्जी लिमिट एकाउंट बनाकर बीस लाख रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाकर पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। उधर, बैंक अधिकारियों ने किसी तरह की अनियमितता से इनकार किया है। लक्सर के जैतपुर निवासी जुगेंद्र सैनी पुत्र शादीराम का कहना है कि उसने वर्ष 2008 में गांव की अपनी जमीन पर एक मिनी फ्लोर मिल लगाया था। इसे लगाने के लिए उसने लक्सर के एक राष्ट्रीयकृत बैंक से दस लाख रुपये का ऋण लिया था। इसकी किस्तें वह नियमित जमा कर रहा था। जुगेंद्र के मुताबिक मिल का सारा काम उसका मैनेजर देखता था। आरोप है कि उसके मैनेजर ने बैंक के शाखा प्रबंधक से साठगांठ करके फर्म के नाम से बीस लाख रुपये की सीसी लिमिट बनवा ली। बाद में उन्होंने चेकबुक से सीसी लिमिट से बीस लाख रुपये निकाल लिए। मामले का पता चलने पर उसने शिकायत की। इस पर बैंक के तत्कालीन अधिकारियों ने जुगेंद्र के कर्जे के कुल भुगतान के तौर पर उससे 23.50 लाख रुपये जमा करवा लिए थे। हाल ही में जुगेंद्र को पता चला कि बैंक में उसके कर्जे की फाइल अभी भी चल रही है। उसने तत्कालीन शाखा प्रबंधक व अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाकर लक्सर कोतवाली में शिकायत की है। एसएसआई राकेश कुमार ने बताया कि बैंक से मामले की जांच कराने के बाद कार्रवाई की जाएगी। उधर, बैंक के वर्तमान शाखा प्रबंधक एसएस डोगरा का कहना है कि फर्म के स्वामी ने ही सीसी लिमिट बनवाई थी और उसी से इसकी वसूली भी की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:- Bank manager charged for making fake CC limit