DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कहां हैं ज्वेलर गोलीकांड के लुटेरे

निर्मल बाग विस्थापित क्षेत्र में ज्वेलर से लूट और गोलीकांड के एक सप्ताह बाद भी पुलिस के हाथ खाली है। पुलिस अभी तक बदमाशों का सुराग नहीं लगा पाई है। पुलिस सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के सहारे बदमाशों की पहचान करने का दावा करने तक सीमित है। लगता है पुलिस का मुखबिर तंत्र पूरी जांच में फेल हो गया है।

वीरभद्र मार्ग स्थित निर्मल बाग में 19 मई की रात करीब साढ़े आठ बजे सरेआम बाइक सवार अज्ञात बदमाशों ने साक्षी ज्वेलर के मालिक वीरेंद्र सिंह चौहान को गोली मारी और ज्वेलरी से भरा बैग लूटकर फरार हो गए। जिसके बाद गंभीर हालत में वीरेंद्र सिंह को एम्स में भर्ती कराया गया। घटना के पुलिस में हड़कंप मच गया। लूट और गोलीकांड की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती उसी रात घटना स्थल पर पहुंची। अधीनस्थों को घटना का शीघ्र खुलासा करने का निर्देश दिया था। हैरत की बात यह कि लूट और गोलीकांड को 9 दिन बीत चुके हैं, लेकिन पुलिस अभी तक किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंची है। यह हाल तब है जब घटना के खुलासे के लिए पांच टीमें गठित की गई हैं। पुलिस की जांच सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने से आगे बढ़ती नहीं दिख रही है। माना जा सकता है कि फिलहाल लूट और गोलीकांड पुलिस के लिए अबूझ पहेली बनकर रह गया। उच्चाधिकारियों का दबाव भी कोतवाली पुलिस पर है। घटना का जल्द खुलासा नहीं होने पर शहर के ज्वेलर भी आक्रोशित हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Where are the jewelry robbers