DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जांच पूरी होने तक न हो पार्षद की गिरफ्तारी

ऋषिकेश नगर निगम के एक पार्षद समेत छह लोगों पर एक छात्र को आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में कुछ पार्षदों ने पुलिस से निष्पक्ष जांच की मांग की है। यही नहीं जांच पूरी होने तक आरोपित पार्षद को गिरफ्तार नहीं करने की गुहाई लगाई। पुलिस ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

शनिवार को भाजपा पार्षद शिव कुमार गौतम के नेतृत्व में ऋषिकेश नगर निगम के आधा दर्जन से अधिक पार्षद कोतवाली पहुंचे। यहां कोतवाल रितेश साह से मुलाकात कर पार्षद पर छात्र को खुदकुशी के लिए मजबूर करने के आरोप में दर्ज मुकदमे को राजनीतिक साजिश करार दिया। पार्षदों ने एक स्वर में पार्षद विकास तेवतिया को बेगुनाह बताते हुए पुलिस ने मामले की निष्पक्ष जांच करने की मांग की। साथ ही जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती पार्षद तेवतिया को गिरफ्तार नहीं किया जाए। कहा एक पक्षीय कार्रवाई होने पर नगर निगम के सभी पार्षद आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। कोतवाल रितेश साह ने पार्षदों को उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाते हुए कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच की जाएगी। सभी तथ्यों को एकत्रित किया जाएगा। किसी निर्दोष को फंसाना पुलिस की फितरत में नही है।इस मौके पर पार्षद तनू तेवतिया, शारदा सिंह, जगत नेगी, राजेंद्र बिष्ट, विजय बडोनी, गुरविंदर सिंह, अजीत गोल्डी, मनीष बनवाल, शकुंतला शर्मा, मधु मिश्रा, जयेश राणा, शौकत अली, पूर्व सभासद सुमित पंवार आदि शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Until the investigation is completed No arrest of councilor