DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नगर निगम में शामिल ग्रामीण क्षेत्र जगमगाएंगे

पथ प्रकाश की सुविधा से वंचित नगर निगम में शामिल ग्रामीण क्षेत्र की सड़कें और गलियां रोशन होंगी। निगम प्रशासन नए क्षेत्रों में स्ट्रीट लाइट लगाने के लिए सर्वे करेगा। दावा है कि सर्वे दो महीने कर लिया जाएगा। एस्टीमेट तैयार शासन को भेजा जाएगा।

नगर पालिका के नगर निगम में अपग्रेड होने के बाद ग्राम सभा इंदिरानगर और वीरपुर खुर्द नगर निगम में शामिल हुए। नगर पालिका के 20 वार्ड नगर निगम में बढ़कर 40 हो गए। निगम में शामिल गांवों में प्राथमिकता के तौर पर पथ प्रकाश की सुविधा उपलब्ध कराने को निगम प्रशासन ने कवायद शुरू कर दी है। मुख्य नगर आयुक्त चतर सिंह चौहान ने बताया कि पथ प्रकाश की सुविधा से वंचित नगर निगम के नए इलाकों का पहले सर्वे किया जाएगा, जिसके माध्यम से सुनिश्चित किया जाएगा किस वार्ड में कितनी स्ट्रीट लाइटों की जरूरत है। बताया कि सर्वे की कार्रवाई के लिए सहायक नगर आयुक्त उत्तम सिंह नेगी को निर्देशित किया गया। वह दो महीने में सर्वे पूरा करने के बाद रिपोर्ट सौंपेंगे। रिपोर्ट मिलने के बाद एस्टीमेट तैयार शासन को भेजेंगे। वित्तीय मंजूरी मिलते ही नगर निगम के नए इलाकों में स्ट्रीट लाइट लगा दी जाएगी।यहां है पथ प्रकाश की कमीरेलवे स्टेशन से डीजीबीआर चौराहे तक, मंसा देवी, अमितग्राम, दूधूपानी, गुर्जर बस्ती, बापूग्राम, मीरानगर, शिवाजीनगर, वीरपुरखुर्द में पथ प्रकाश की सुविधा नहीं होने से शाम ढलने के बाद यहां के मुख्य मार्गों और गलियों में अंधेरा छा जाता है, जिससे लोगों को आवाजाही में दिक्कत होती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The rural areas involved in the municipal corporation will be shining