DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  ऋषिकेश  ›  तेज हवा और बारिश ने गुल कर दी बिजली

रिषिकेषतेज हवा और बारिश ने गुल कर दी बिजली

हिन्दुस्तान टीम,रिषिकेषPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:30 PM
तेज हवा और बारिश ने गुल कर दी बिजली

ऋषिकेश। वरिष्ठ संवाददाता

मौसम का मिजाज सोमवार रात अचानक बदल गया। तेज हवा के साथ झमाझम बारिश से मौसम तो सुहावना हो गया। लेकिन कई इलाकों में पेड़ गिरने से बिजली गुल हो गई। इससे लोगों को अंधेरे में रात काटनी पड़ी। श्यामपुर क्षेत्र में आसमानी बिजली गिरने से एक मकान का छज्जा क्षतिग्रस्त हो गया। जबकि बगल के मकान में दरार आ गई।

श्यामपुर के रामेश्वरपुरम कॉलोनी में मंगलवार तड़के करीब चार बजे एक मकान के ऊपर आकाशीय बिजली गिरी। यह मकान बहादुर सिंह का है। उस समय घर में परिवार के सभी नौ सदस्य सो रहे थे। बहादुर सिंह ने बताया कि बहुत तेज धमाका हुआ सभी लोग जाग गए। लेकिन बाहर आने की हिम्मत नहीं हुई। बाहर तेज हवा चल रही थी। उजाला होने पर वह बाहर निकले तो छज्जे का मलबा जमीन पर पड़ा था। मकान का छज्जा कई जगह से नीचे लटका गया। मुमटी में भी दरारें आ गई। क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य संजीव चौहान को घटना की सूचना दी गई। संजीव चौहान मौके पर पहुंचे, उन्होंने बताया इनके मकान को काफी नुकसान हुआ है। घर के छज्जे का करीब आठ फीट हिस्सा नीचे गिर गया है। बताया कि बगल में एक अन्य मकान है, इसमें एक परिवार किराए में रहता है। इस मकान में भी काफी दरारें पड़ गई है। जिला पंचायत सदस्य चौहान ने जिलाधिकारी और उप जिला अधिकारी को घटना की सूचना दी। उधर, देर रात तेज हवा के साथ बारिश से राजकीय प्राथमिक विद्यालय प्रतीतनगर में भारी-भरकम पेड़ गिर गया। पेड़ गिरने से एक बिजली का पोल भी क्षतिग्रस्त हो गया। इससे प्रतीतनगर-गौहरीमाफी का संपर्क मार्ग बाधित हो गया। लाइन क्षतिग्रस्त होने से रातभर रायवाला, प्रतीतनगर के कई इलाके अंधेरे में रहे। पेड़ हटाने के साथ टूटी लाइन जोड़ने पर दोपहर बाद बिजली की सप्लाई सामान्य हो पाई। श्यामपुर क्षेत्र के खदरी, हरिपुरकला एवं वीरभद्र मार्ग पर भी पेड़ गिरने से ऊर्जा निगम को परेशानी हुई। एसडीओ श्यामपुर राजीव कुमार ने बताया कि तेज हवा के चलते पेड़ गिरने से प्रतीतनगर, रायवाला में बिजली के पोल एवं लाइन क्षतिग्रस्त हो गई। जबकि हरिपुरकलां, खदरी, वीरभद्र मार्ग पर भी पेड़ गिरने से लाइन क्षतिग्रस्त हुई। इसे मंगलवार को दोपहर तक ठीक कर दिया गया।

संबंधित खबरें