DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब ब्रह्मपुरी से करवाई जा रही राफ्टिंग

गंगा का जलस्तर बढ़ने के बाद अब ब्रह्मपुरी से राफ्टिंग करवाई जा रही है। गंगा का पानी गंदला होने और जलस्तर बढ़ने से राफ्टिंग में दिक्कत आ रही है। इसलिये पर्यटन और वन विभाग ओवरलोड राफ्टों पर नजर रख रहे हैं।

गंगा का जलस्तर बढ़ने से अब राफ्टिंग की दूरी घटा दी गई है। अब ऋषिकेश से आठ किमी की दूरी पर स्थित ब्रह्मपुरी से ही पर्यटक राफ्टिंग का लुत्फ उठा रहे है। बीते कुछ दिनों से गंगा का जलस्तर बढ़ने के साथ पानी गंदला होने से दिक्कत आई है। ऋषिकेश से 22 किलोमीटर दूरी पर स्थित कौड़ियाला और 16 किलोमीटर दूर स्थित शिवपुरी से पर्यटक गंगा में राफ्टिंग करते है। कौड़ियाला से पांच घंटे और शिवपुरी से तीन घंटे में राफ्ट से पर्यटक ऋषिकेश पहुंचते है। लेकिन जलस्तर बढ़ने के बाद आठ किलोमीटर दूरी पर स्थित ब्रह्मपुरी से पर्यटकों को राफ्टिंग कराई जा रही है। जिसमें एक घंटे का समय लग रहा है। मंगलवार को भी राफ्टिंग को पर्यटकों की भीड़ रही। साहसिक पर्यटन समिति के भगवती प्रसाद ने बताया कि जलस्तर बढ़ने व पानी गंदला होने से अब ब्रह्मपुरी से राफ्टिंग कराई जा रही है। बताया कि इस बार रिकार्ड पर्यटक राफ्टिंग का लुत्फ उठाने गंगाघाटी पहुंच रहे है। सहायक क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी विजय कुमार का कहना है कि जलस्तर बढ़ने और पानी गंदला होने से अब ब्रह्मपुरी से राफ्टिंग की जा रही है। डीएफओ नरेन्द्रनगर डा.धर्म सिंह का कहना है कि जलस्तर बढ़ने के बाद नियमों की अवहेलना करने वालों के चालान काटे जा रहे है। ऐसी राफ्टों के नंबर नोट किये जा रहे है, साथ ही उनके लाइसेंस निरस्त किए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Now rafting being done from Brahmapuri