DA Image
3 सितम्बर, 2020|9:19|IST

अगली स्टोरी

पांच माह बाद खुले नीलकंठ महादेव मंदिर के कपाट

default image

अनलॉक-4 की गाइड लाइन लागू होने पर पांच महीने बाद मंगलवार को नीलकंठ मंदिर के कपाट खुले। कपाट खुलने पर श्रद्धालुओं ने सोशल डिस्टेंसिंग के साथ शिवलिंग के दर्शन कर जलाभिषेक किया। मंगलवार को 167 दिन बाद प्राचीन नीलकंठ मंदिर के कपाट खुले। भगवान के दर्शन के लिए आये श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक किया। श्रद्धालु दूरी बनाकर मंदिर में प्रवेश कर शिवलिंग पर जलाभिषेक करते रहे। सोशल डिस्टेसिंग व मास्क पहनने की शर्तों का पालन किया। मंदिर में पूजन सामग्री व प्रसाद के अलावा अन्य किसी भी सामान को लाने के लिए मनाही थी। नीलकंठ मंदिर के मुख्य पुजारी शिवानंद गिरि ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते 18 मार्च को मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया गया था। अब 167 दिन बाद मंदिर खुला है। मंदिर में प्रवेश के लिए सरकार की गाईड लाइन का पालन करना आवश्यक है। मंदिर में सिर्फ जल, फूल, बेलपत्र एवं फल व सूखा प्रसाद ही लाने की अनुमति है। अन्य किसी प्रकार की सामग्री लाने पर प्रतिबंध है। मास्क पहनना व दो गज की दूरी का पालन करवाया जा रहा है। बताया कि मंदिर में श्रद्धालु सुबह नौ से सायं चार बजे तक ही जलाभिषेक व दर्शन कर सकते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Neelkanth Mahadev Temple doors opened after five months