DA Image
15 जनवरी, 2021|11:52|IST

अगली स्टोरी

एम्स ऋषिकेश में एमबीबीएस की कक्षाएं शुरू

default image

हमारी चिकित्सा पद्धति में साइंस के साथ साथ आर्ट भी: प्रोफेसर रविकांत

नए शैक्षणिक सत्र की एमबीबीएस प्रथम वर्ष की वर्चुअल क्लासेस का शुभारंभ किया

ऋषिकेश। वरिष्ठ संवाददाता

एम्स ऋषिकेश में शुक्रवार से एम्स ऋषिकेश और एम्स विजयपुर( जम्मू ) की नए शैक्षणिक सत्र की एमबीबीएस प्रथम वर्ष की वर्चुअल क्लासेस शुरू हो गई हैं। वर्चुअल क्लास में ऋषिकेश एम्स के 119 और एम्स जम्मू के 35 छात्रों ने प्रतिभाग किया। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रविकांत ने कहा कि हमारी चिकित्सा पद्धति में साइंस के साथ-साथ आर्ट भी है। इसलिये छात्रों को चिकित्सकीय पेशे में सफलता अर्जित करने के लिए विज्ञान के साथ ही कला को भी अनिवार्यरूप से आत्मसात करना होगा, तभी वह मरीजों को बेहतर चिकित्सा सेवा दे सकते हैं। एम्स ऋषिकेश में शुक्रवार से एमबीबीएस प्रथम वर्ष की कक्षाएं विधिवत शुरू हो गई हैं। जिसमें ऋषिकेश के साथ जम्मू एम्स के विद्यार्थी भी शामिल हुए। निदेशक एम्स ने बताया कि चिकित्सा प्रणाली में प्रत्येक पांच वर्ष के समयांतराल में दवा, उपचार विधि व परीक्षण के तौर तरीकों में बदलाव आ जाता है। मगर इसके इस प्रणाली में अपनाई जाने वाली आर्ट में कोई बदलाव नहीं आता। उन्होंने चिकित्सा विज्ञान में एविडेंस बेस्ड मेडिसिन पर जोर दिया और इसके लिए रेंडमाइज्ड कंट्रोल ट्रायल पर ध्यान देने की आवश्यकता बताई। गौरतलब है कि एम्स विजयपुर (जम्मू) में संस्थान का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। जम्मू एम्स में इस वर्ष से 50 सीटों के साथ एमबीबीएस की पढ़ाई शुरू कर दी गई है। यह छात्रों का प्रथम बैच है, चूंकि जम्मू का मेंटर इंस्टिट्यूट एम्स ऋषिकेश है, लिहाजा एम्स ऋषिकेश के छात्र छात्राओं के साथ ही एम्स जम्मू की एमबीबीएस की पढ़ाई अपने संस्थान के छात्रों के साथ शुरू की है। इस अवसर पर संस्थान के डीन एकेडमिक प्रोफेसर मनोज गुप्ता, जम्मू एम्स के उप निदेशक कर्नल प्रभात शर्मा, फैकल्टी मेंबर्स डा. मनीषा नैथानी, डा. पूर्वी कुलश्रेष्ठा, फाउंडेशन कोर्स कमेटी की डा. गीता नेगी, डा. हरीश आदि मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:MBBS classes begin in AIIMS Rishikesh