DA Image
13 सितम्बर, 2020|10:31|IST

अगली स्टोरी

खटीमा कांड के शहीद आंदोलनकारियों को किया याद

default image

खटीमा कांड की 26वीं बरसी पर राज्य आंदोलनकारियों ने शहीदों को याद किया। उन्होंने खटीमा, मुजफ्फरनगर व मसूरी कांड के दोषियों को सजा दिलवाने की मांग की। मंगलवार को हरिद्वार मार्ग स्थित शहीद स्मारक पर राज्य आंदोलनकारियों ने बैठक आयोजित की। बैठक में खटीमा कांड की 26वीं बरसी में शहीद राज्य आंदोलकारियों को श्रद्धाजंलि देकर उन्हें याद किया। उत्तराखंड संयुक्त संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष वेद प्रकाश शर्मा ने कहा कि एक सितंबर 1994 में खटीमा में उत्तराखंड राज्य की मांग कर रहे आंदोलनकारियों पर पुलिस ने लाठी डंडे बरसा दिए थे। जिसमें कई राज्य आंदोलनकारी शहीद हो गए। 26 वर्ष बाद भी शहीद राज्य आंदोलनकारियों के दोषियों को सजा नहीं मिल पाई है। कहा कि उत्तराखंड सरकार को खटीमा, मुजफ्फरनगर व मसूरी कांड के दोषियों सजा दिलवानी चाहिए। इस दौरान पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न प्रणव मुखर्जी के निधन पर शोक व्यक्त किया गया। मौके पर डीएस गुसाईं, उषा रावत, विक्रम भंडारी, हरि प्रसाद गौड़, वीरेंद्र शर्मा, युद्धवीर चौहान, रुकम पोखरियाल, रामेश्वरी चौहान, गंभीर मेवाड़, प्रेमा नेगी, सरोजनी थपलियाल, वीरेंद्र नौटियाल, करमचंद, हेमंत डंग, सोमवती देवी आदि उपस्थित थे। उधर, यूकेडी ने आईडीपीएल स्थित कार्यालय में खटीमा कांड के शहीद राज्य आंदोलनकारियों को याद किया। मौके पर एमएस शाही, केडी जोशी, युद्धवीर चौहान, गुलाब सिंह रावत, आनंद सिंह तड़ियाल, वीसी रावत आदि उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Martyrs of Khatima incident remembered