ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंड ऋषिकेशभारी विरोध के बीच कूड़ा निस्तारण प्लांट का काम शुरू

भारी विरोध के बीच कूड़ा निस्तारण प्लांट का काम शुरू

विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...

विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
1/ 4विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
2/ 4विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
3/ 4विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
4/ 4विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर...
हिन्दुस्तान टीम,रिषिकेषSun, 03 Dec 2023 07:15 PM
ऐप पर पढ़ें

ऋषिकेश, संवाददाता।
विरोध के बीच लालपानी में प्रस्तावित कूड़ा निस्तारण एवं प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण शुरू हो गया है। रविवार को सुरक्षा दीवार बनाने का कार्य शुरू कर दिया गया। एहतियात के तौर पर निर्माण स्थल के आसपास ऋषिकेश समेत जिले के कई थानों और वन रेंजों की फोर्स तैनात रही।

एडीएम रामजी शरण शर्मा रविवार को नगर निगम, पुलिस और वनकर्मियों की फोर्स के साथ गुमानीवाला पहुंचे। उन्होंने यहां नगर निगम को हस्तांतरित 10 हेक्टेयर वनभूमि पर प्लांट का निर्माण शुरू कराने का प्रयास, तो बीते 460 दिन से आंदोलनरत स्थानीय लोग मौके पर आ धमके। तनाव की स्थिति के बीच उन्होंने सुप्रीम कोर्ट तक मामला पहुंचने और कार्रवाई से संबंधित जानकारी दी। इस पर आंदोलन की अगुवाई कर रहे पुरुषोत्तम बडोनी सुरक्षा दीवार के लिए पोल गाड़ने पर राजी हो गए। उन्होंने आंदोलनकारियों को भी इससे अवगत कराया। सहमति होते ही प्रशासन ने जेसीबी के माध्यम से हस्तांरित वनभूमि पर जेसीबी से खाई खुदान का कार्य शुरू करा दिया। मौके पर डीएफओ निलेशमणि त्रिपाठी, एसडीएम योगेश मेहरा, एसपी देहात कमलेश उपाध्याय, एसडीओ स्पर्श काला, सीओ संदीप नेगी मौजूद रहे। वहीं, आंदोलनकारियों में रंजीत थापा, मानवेंद्र कांडारी, वीरेंद्र मोघा, वीरेंद्र रमोला, रजमान, राजू गुनसोला, धर्म सिंह क्षेत्री, नत्थीलाल सेमवाल, राजमति रावत, धर्मा देवी, संदीप कुड़ियाल, रूकमा व्यास, पूजा थापा, विनीता असवाल, रामश्री देवी, रीना देवी, ऊषा देवी, गणेशी देवी, माला देवी, सुनीता भट्ट, विजया नौटियाल, यशोदा देवी, कमला देवी, विमला देवी, मुन्नी देवी, पार्वतीय देवी, गुड्डी देवी, मीना देवी, दिला देवी, कविता देवी आदि शामिल रहे। मालूम हो कि रोज लोगों ने शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल से मिलकर शहर में जमा कूड़ा हटवाने की गुहार लगाई थी। इस पर मंत्री ने जल्द कूड़ा हटवाने का भरोसा दिया था।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें