class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रतिभा : आठवीं में पढ़ने वाले छात्र ने तैयार किया खास टॉयलेट

आठवीं के छात्र ने बनाया यूरिनल बॉयो टॉयलेट

प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती। यह साबित कर दिखाया रुद्रप्रयाग जनपद के आठवीं कक्षा के छात्र ईश्वर सिंह ने। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन से प्रेरित छात्र ने यूरिनल बॉयो टॉयलेट का मॉडल बनाया है, जिसका नाम रखा है इज्जत घर।

खासियत यह कि इसे कहीं भी स्थापित किया जा सकता है। राज्य स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में उनके इस मॉडल को लोगों ने बेहद सराहा है।श्री भरत मंदिर इंटर कालेज में आयोजित राज्य स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में अपनी बाल वैज्ञानिक की प्रतिभा दिखाने वाले ईश्वर सिंह रुद्रप्रयाग जनपद अंतर्गत अगस्तमुनि के छिनका गांव में राजकीय उच्चत्तर प्राथमिक विद्यालय में कक्षा 8 के छात्र हैं। ईश्वर ने बताया कि उनके गांव में सार्वजनिक शौचालय नहीं है, लोगों के जहां तहां मूत्र विसर्जन करने से प्रदूषण फैलता है। यही नहीं पहाड़ में यात्रा रूट पर सार्वजनिक शौचालय का अभाव है।

बुनियादी सुविधा नहीं होने से अक्सर मन व्यथित रहता है।बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान की शुआत की तो एक आस जगी। लेकिन गांव में कुछ नहीं हुआ। मोदी के अभियान से प्रेरणा लेकर उन्होंने इज्जत घर यानी यूरिनल बॉयो टायलेट का मॉडल बनाया। इज्जत घर कहीं भी स्थापित किया जा सकता है, इसका स्वरुप ऐसा है कि इसे फोल्ड भी किया जा सकता है।

ईश्वर के शिक्षक आनंद प्रसाद मखन्वाल ने बताया कि इज्जत घर का रुद्रप्रयाग जिलाधिकारी भी अवलोकन कर चुके हैं, उन्होंने इस प्रणाली को विकसित करने का आश्वासन दिया है।गीत से जागरूकताछात्र के बनाए इज्जत घर की खासियत है कि यूरिनल के लिए जैसे ही इसके पायदान पर पैर रखेंगे तभी एक स्वच्छ भारत मिशन का संदेश सुनाई देगा और उसके बाद आंचलिक भाषा में एक गीत भी सुनाई देगा, जो स्वच्छता के लोगों को जागरूक करता है। छात्र ईश्वर ने बताया कि गीत प्रख्यात कवि ओमप्रकाश सेमवाल ने स्वरचित किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Eighth class student made urinal bio toilet
भाजपाइयों ने लक्ष्मणपुल थाने को घेरा राजाजी टाइगर रिजर्व की मोतीचूर रेंज के गेट पर्यटकों के लिए खुले