DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संजय झील के सौंदर्यीकरण से क्षेत्र में पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा: अग्रवाल

संजय झील के सौंदर्यीकरण से क्षेत्र में पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा: अग्रवाल

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने संजय झील के सौंदर्यीकरण कार्य के लिए वन विभाग, जल संस्थान एवं नमामि गंगे के अधिकारियों संग बैठक की। उन्होंने अधिकारियों से झील निर्माण से संबंधित कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए और इसकी जानकारी ली।

मंगलवार को बैराज मार्ग स्थित कैंप कार्यालय में विस अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने वन विभाग, जल संस्थान एवं नमामि गंगे के अधिकारियों के संग बैठक की। उन्होंने वन विभाग एवं नमामि गंगे के अधिकारियों को झील को विकसित करने के लिए शीघ्र ही कार्ययोजना तैयार कर कार्य प्रारंभ करने के निर्देश दिए। वन विभाग के डीएफओ राजीव धीमान ने बताया कि संजय झील के विस्तारीकरण एवं सौंदर्यीकरण के लिए आर्किटेक्ट के द्वारा डिजाइनिंग की जाएगी। उसके बाद कार्य में व्यय होने वाली धनराशि का आकलन किया जाएगा। कहा कि संजय झील के निर्माण के लिए पर्यटन विभाग से बात की जाएगी। बताया कि झील के निर्माण में नमामि गंगे एवं इको टूरिज्म के मद से निर्माण कार्य किया जाना है। संजय झील में ड्रेगिंग, ट्रैक रूट, सोलर लाइट, अस्थाई शौचालय पार्किंग की व्यवस्था, पैराफिट रेलिंग एवं अन्य निर्माण कार्य किए जाने हैं। विस अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि शहर के बीच संजय झील के सौंदर्यकरण से क्षेत्र में पर्यटन बढ़ेगा और रोजगार भी बढ़ेगा। संजय झील में साहसिक खेल, पेडल बोट्स आदि वाटर स्पोर्ट्स शुरू किए जाएंगे। ऋषिकेश में तीर्थाटन के साथ पर्यटन को बढ़ावा देने की दृष्टि से संजय झील को विकसित किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि संजय झील के संबंध में वे पर्यटन मंत्री से भी वार्ता करेंगे। उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को वन क्षेत्र में हो रहे अतिक्रमण एवं गंगा में जाने वाले सीवरेज की ओर भी ध्यान देने एवं तत्काल इन विषयों पर कार्यवाही करने को कहा। मौके पर नमामि गंगे के मुख्य वन संरक्षक भुवन चंद, जल संस्थान के अधिशासी अभियंता नमित रमोला मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Beautification of Sanjay Lake will boost tourism in the region Agarwal