DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीलकंठ में सवा लाख शिवभक्तों ने चढ़ाया जल

नीलकंठ में सवा लाख शिवभक्तों ने चढ़ाया जल

1 / 5कांवड़ यात्रा के पांचवें दिन भी शिव भक्तों का हुजूम नीलकंठ धाम की ओर भगवान भोलेनाथ को जल चढ़ाने को उमड़ता रहा। ऋषिकेश से लेकर नीलकंठ क्षेत्र केसरिया रंग में रंगने लगा है। जैसे-जैसे सावन के दिन बढ़ने...

नीलकंठ में सवा लाख शिवभक्तों ने चढ़ाया जल

2 / 5कांवड़ यात्रा के पांचवें दिन भी शिव भक्तों का हुजूम नीलकंठ धाम की ओर भगवान भोलेनाथ को जल चढ़ाने को उमड़ता रहा। ऋषिकेश से लेकर नीलकंठ क्षेत्र केसरिया रंग में रंगने लगा है। जैसे-जैसे सावन के दिन बढ़ने...

नीलकंठ में सवा लाख शिवभक्तों ने चढ़ाया जल

3 / 5कांवड़ यात्रा के पांचवें दिन भी शिव भक्तों का हुजूम नीलकंठ धाम की ओर भगवान भोलेनाथ को जल चढ़ाने को उमड़ता रहा। ऋषिकेश से लेकर नीलकंठ क्षेत्र केसरिया रंग में रंगने लगा है। जैसे-जैसे सावन के दिन बढ़ने...

नीलकंठ में सवा लाख शिवभक्तों ने चढ़ाया जल

4 / 5कांवड़ यात्रा के पांचवें दिन भी शिव भक्तों का हुजूम नीलकंठ धाम की ओर भगवान भोलेनाथ को जल चढ़ाने को उमड़ता रहा। ऋषिकेश से लेकर नीलकंठ क्षेत्र केसरिया रंग में रंगने लगा है। जैसे-जैसे सावन के दिन बढ़ने...

नीलकंठ में सवा लाख शिवभक्तों ने चढ़ाया जल

5 / 5कांवड़ यात्रा के पांचवें दिन भी शिव भक्तों का हुजूम नीलकंठ धाम की ओर भगवान भोलेनाथ को जल चढ़ाने को उमड़ता रहा। ऋषिकेश से लेकर नीलकंठ क्षेत्र केसरिया रंग में रंगने लगा है। जैसे-जैसे सावन के दिन बढ़ने...

PreviousNext

कांवड़ यात्रा के पांचवें दिन भी शिव भक्तों का हुजूम नीलकंठ धाम की ओर भगवान भोलेनाथ को जल चढ़ाने को उमड़ता रहा। ऋषिकेश से लेकर नीलकंठ क्षेत्र केसरिया रंग में रंगने लगा है। जैसे-जैसे सावन के दिन बढ़ने लगे हैं, वैसे-वैसे ऋषिकेश में शिवभक्तों आमद बढ़ने लगी है। रविवार को सवा लाख शिवभक्तों ने पौराणिक नीलकंठ धाम में पवित्र शिवलिंग पर जलार्पण कर पुण्य कमाया। इस दौरान समूचा नीलकंठ क्षेत्र बम बम भोले के उद्घोष से गुंजायमान रहा।

भारतीय संस्कृति में श्रावण मास का विशेष महत्व है। इस महीने श्रद्धालु भगवान भोलेनाथ की पूजा व जलाभिषेक करते हैं। 17 जुलाई से श्रावण मास की कांवड़ यात्रा शुरू होने के साथ ही तीर्थनगरी में कांवड़ियों की भीड़ बढ़ने लगी है। रायवाला, ऋषिकेश, मुनिकीरेती व स्वर्गाश्रम क्षेत्र से लेकर नीलकंठ महादेव मंदिर तक जहां-तहां शिवभक्तों की भीड़ नजर आ रही है। सड़कें हों या गंगा घाट सभी जगह भगवा रंग में रंगे कांवड़ियों की भीड़ दिखाई देने लगी है। लगातार बढ़ रही भीड़ की वजह है ऋषिकेश आने व यहां से हरिद्वार की ओर जाने वाली बसें, ट्रेन और अन्य यातायात के साधन खचाखच भर आवाजाही करने लगे हैं। लक्ष्मणझूला चौकी इंचार्ज राकेंद्र सिंह कठैत ने बताया कि रविवार को श्रावण मास के पांचवें दिन सवा लाख शिवभक्तों ने नीलकंठ मंदिर में जलाभिषेक किया। इसके साथ ही ऋषिकेश के वीरभद्र मंदिर, सोमेश्वर मंदिर, चंद्रेश्वर मंदिर आदि में भी शिवभक्तों ने जलाभिषेक किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:1 25 lakh devotees offered water in Nilkanth