DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दीवार टूटने से धंसी केमू बस, बाल-बाल बचे 30 श्रद्धालु

दीवार टूटने से धंसी केमू बस, बाल-बाल बचे 30 श्रद्धालु

देवीधूरा मां बाराही मंदिर से पूजा-पाठ कर लौट रहे ओखलकांडा ब्लाक के कोडार, डालकन्या और पटलोट के 30 श्रद्धालुओं की जान गुरुवार देर रात बाल-बाल बची। बस में सवार श्रद्धालुओं ने इसे मां बाराही का ही चमत्कार बताया कि बस खाई में जाने से बच गई। गुरुवार सुबह डालकन्या के लोग केमू बस संख्या यूके-04-9474 से देवीधूरा मां बाराही देवी मंदिर में पूजा के लिए गए थे। इसमें आसपास के कोडार और पटलोट के करीब 30 से अधिक लोग सवार थे। शाम को श्रद्धालु पूजा-अर्चना कर लौट रहे थे कि रात करीब 9.30 बजे देवली-डालकन्या मोटर मार्ग में छेड़ाखान तोक के समीप बस सड़क की दीवार धंसने से खाई की तरफ लटक गई। चालक बंशी ने सूझबूझ का परिचय देते हुए बस को वहीं पर ब्रेक मारकर रोक दिया। यात्रियों की चीख पुकार सुनकर आसपास के ग्रामीण भी एकत्र हो गए। बाद में बस को रस्सियों के सहारे पेड़ में बांधा गया। बस के सड़क से खाई की ओर पूरी तरह लटकने के बाद भी सभी लोग सुरक्षित बस से उतार लिए गए। इसे क्षेत्र के लोग मां बाराही का चमत्कार मान रहे हैं। इधर विधायक राम सिंह कैड़ा ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से ओखलकांडा ब्लाक की बदहाल सड़कों की स्थिति को सुधारने की मांग की है। ताकि कोई अनहोनी घटना घटित न हो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Wall, breakdown, from, moan, kemu, bus, hair-child, survivors, 30, devotees