DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाकपा (माले) ने पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि दी

आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर पार्टी राज्य कार्यालय में भाकपा (माले) उत्तराखंड राज्य कमेटी की बैठक हुई। बैठक में वक्ताओं ने मोदी सरकार पर शहीदों की लाश पर युद्धोन्माद की राजनीति करने का आरोप लगाया। इस मौके पर उन्होंने पुलवामा में शहीद हुये जवानों को श्रद्धांजलि दी।

सोमवार को उत्तराखंड राज्य सचिव कामरेड राजा बहगुणा ने कहा वर्ष 2014 में नरेंद्र मोदी ने देश की जनता को जो सब्जबाग दिखाए थे, वह बुरी तरह से ध्वस्त हो गए हैं और हर मोर्चे पर विफल सरकार देश के लिए एक आपदा साबित हुई है। उन्होंने कहा कि जिस दिन से पुलवामा में आतंकी हमला हुआ है, पीएम का ध्यान केवल वोट पर है और अंधराष्ट्रवाद की आड़ में देश के सारे बुनियादी सवालों को पीछे धकेला जा रहा है। यहां तक कि शहीद सीआरपीएफ के जवानों को शहीद का दर्जा देने और पेंशन देने के सवाल पर मोदी सरकार ने चुप्पी साध ली है। कहा जिस दिन पुलवामा में आतंकी हमला हुआ पूरा देश शोक में डूब गया था, लेकिन प्रधानमंत्री का चुनाव प्रचार नहीं थमा। राज्य कमेटी की बैठक में देश की राजनीतिक परिस्थिति और लोकसभा चुनाव पर विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में कहा गया कि लाल झंडा आगामी चुनाव में आमजन के बुनियादी सवालों के साथ 'युद्ध नहीं, शांति चाहिए, हर हाथ को काम चाहिए' नारे को बुलंद करेगा। यहां माले नेता, कैलास पांडे, केंद्रीय कमेटी सदस्य राजेंद्र प्रथोली, पुरुषोत्तम शर्मा, संजय शर्मा, राज्य कमेटी सदस्य बहादुर सिंह जंगी, इंद्रेश मैखुरी, केके बोरा, आनंद सिंह नेगी, केपी चंदोला, राजेंद्र जोशी, विमला रौथाण, ललित मटियाली रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CPI Maal paid tribute to the Pulwama martyrs