DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिथौरागढ़ के कई हिस्सों में नहीं आया नलों में पानी

पिथौरागढ़ के कई हिस्सों में नहीं आया नलों में पानी

नगर के कई हिस्सों में नलों में पानी नहीं आया और कई जगह गंदा पानी आने से लोग परेशान रहे।। जिससे 20 हजार से अधिक की आबादी को खासी दिक्कत उठानी पड़ी। लोगों को घरों में पानी नहीं आने के बाद प्राकृतिक जल स्रोतों पर निर्भर रहना पड़ा।बुधवार को जिला मुख्यालय में जगदंबा कॉलोनी, विण, जाखनी, रई और बजेटी, पांडे गांव के कई हिस्सों में पानी की सप्लाई बाधित रही। जिससे बड़ी आबादी को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। पेयजल न आने के कारण लोगों के जरूरी काम नहीं हो पा रहे हैं। वहीं लिंठ्यूड़ा, सिमलगैर, विण, सिनेमालाइन समेत कई हिस्सों में नलों में पानी गंदा आने से लोग परेशान हैं। बीमारी के डर से लोग निजी वाहनों के सहारे गुरना, हुड़कना, महादेव धारे, रई धारे से घरों के लिए शुद्ध पेयजल की व्यवस्था कर रहे हैं। सिनेमालाइन के निवर्तमान सभासद पवन माहरा ने कहा कि वित्त आवास कूच के बाद पेयजल की स्थिति में सुधार आया।अब हालात पहले जैसे हो गए हैं। इसके बाद भी समस्या बनी हुई है। जगदंबा कालौनी में पानी न आने से लोगों में भारी आक्रोश है।

बेरीनाग में तीसरे दिन भी पर्याप्त पानी नहीं

बेरीनाग। नगर के कई हिस्सों में पेयजल संकट गंभीर हो गया है। क्षेत्र में तीसरे दिन पानी आने से लोगों को खासी परेशानी उठानी पड़ रही है। जिससे स्थानीय लोगों में आक्रोश है।गुरुवार को बेरीनाग के जवाहर चौक, नया बाजार, ट्रेजरी लाइन, गणेश चौक, पुराना बाजार, जमुना नगर, डिग्री कॉलेज और भट्टी गांव समेत कई क्षेत्रों में पानी नहीं आया। जिससे करीब 15 हजार की आबादी प्रभावित रही। हैंड पंप और प्राकृतिक स्रोतों से पानी लाने के लिए लोगों की भीड़ जुटी रही है। अधिकतर लोग नगर से 6 किमी दूर सुकल्याड़ी गधेरे से वाहनों में पानी भरकर लाने को मजबूर हैं। कई लोग निजी वाहनों से लाए जा रहे पानी को खरीद रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Water in taps has not come in many parts of Pithoragarh