ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड पिथौरागढ़नाचनी-बांस बगड़ सड़क खोलने के समय पर अफसर आमने सामने

नाचनी-बांस बगड़ सड़क खोलने के समय पर अफसर आमने सामने

नाचनी-बांस बगड़ सड़क पर रविवार रात एक बारात के फंसे होने के मामले के सामने आने के बाद बाद सड़क खोलने के समय को लेकर मंगलवार को डीआईओ और लोनिवि के...

नाचनी-बांस बगड़ सड़क खोलने के समय पर अफसर आमने सामने
हिन्दुस्तान टीम,पिथौरागढ़Tue, 14 May 2024 09:45 PM
ऐप पर पढ़ें

नाचनी-बांस बगड़ सड़क पर रविवार रात एक बारात के फंसे होने के मामले के सामने आने के बाद बाद सड़क खोलने के समय को लेकर मंगलवार को डीआईओ और लोनिवि के अधिशासी अभियंता डीडीहाट अपनी तरफ से पत्र जारी कर अलग -अलग समय बताते नजर आए। दोनों अफसरों की तरफ से जारी किए गये पत्र में सड़क खोलने के समय और खोलने के लिए की गई व्यवस्था की भी जानकारी में भिन्नता रही। हांलाकि सोमवार को बंद बांसबगड़ सड़क में फंसी बारात और वर की तरफ से स्वयं के खर्च से सड़क खोले जाने के दावों को दोनों ही अधिकारियों ने खारिज किया है।
कहा है कि सड़क लोनिवि ने ही खुलवाई थी।

मंगलवार को डीआईओ की तरफ से 2 बजे इस संवाददाता को एक पत्र प्राप्त हुआ। इसमें उन्होंने लोनिवि के अधिशासी अभियंता अंदीप राणा के हवाले से जानकारी देते हुए लिखा कि लोनिवि ने ही बंद सड़क खोली थी। उन्होंने पत्र में लिखा लोनिवि ने सड़क बंद होने की सूचना पर तत्परता से कर्मचारी और जेसीबी मौके पर रात 9 बजे भेजी। सड़क आवागमन के लिए 11.30 बजे तक खोल ली गई। इसी प्रकरण पर लोनिवि के अधिशासी अभियंता राणा की तरफ से लिखा गया पत्र मंगलवार को ही शाम 5 बजे बाद प्राप्त हुआ। डीआईओ को संबोधित इस पत्र में रात 1 बजे सड़क खोलने की बात लिखी गई है। उन्होंने लिखा कि 8.52 में सड़क बंद होने की सूचना मिली, ठेकेदार के माध्यम से जेसीबी की व्यवस्था कर रात 10 बजे सड़क खोलने का काम शुरू किया गया। उन्होंने पत्र में साफ तौर पर लिखा है कि रात 1 बजे सड़क खोली जा सकी। इधर, कोटा के पूर्व प्रधान वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि सड़क खोलने में 1 बज गया था। बारात करीब शाम 7 बजे से वहां फंसी थी। देर रात बाराती अपने घर पहुंच सकी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें