DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थल में आशा कार्यकत्रियों ने उठाई मानदेय बढ़ाने की मांग

थल में आशा कार्यकत्रियों ने उठाई मानदेय बढ़ाने की मांग

मानदेय में बढोतरी नहीं होने से नाराज आशा कार्यकत्रियों ने वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी को ज्ञापन दिया। इस दौरान उन्होंने मांगों को गंभीरता से नहीं लेने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

जिलाध्यक्ष इंद्रा देउपा के नेतृत्व में आशाओं ने सरकार के खिलाफ नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि चुनाव आते ही राजनैतिक पार्टियां कार्यकत्रियों से तरह-तरह के वादे करती हैं, लेकिन कुर्सी मिलने के बाद वह सारे वादे भूल जाती हैं। कहा कि सरकार आशाओं से स्वास्थ्य को लेकर सारे काम करा रही है। गांव से लेकर शहर तक आशाओं से टीके, गर्भवती महिलाओं की देखरेख, सुरक्षित प्रसव सहित सरकार की योजनाओं के प्रचार-प्रसार में उनका सहयोग लिया जा रहा है। इसके बाद भी उन्हें उचित मानदेय नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक ओर सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा दे रही है, वहीं दूसरी ओर उनका ही शोषण किया जा रहा है। सरकार अगर उन्हें बेहतर मानदेय देगी तो वह और लगन, निष्ठा से अपना काम करेंगी। ज्ञापन देने वालों में कमला आर्या, पिंकी कालौनी, रेखा मेहता, कमला चन्द, मीरा जोशी, भावना आर्या शामिल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Asha activists demanded increase in honorarium