DA Image
5 दिसंबर, 2020|1:39|IST

अगली स्टोरी

आप ने दिया रोडवेज कर्मियों के धरने को समर्थन

default image

अपनी छह सूत्रीय मांगों को लेकर धरने पर बैठे रोडवेज कर्मियों के आंदोलन को आप ने समर्थन दिया। कार्यकर्ताओं ने कहा भाजपा के शासन में देश व पर्वतीय प्रदेश का विकास ठप हो गया है। सरकार कर्मचारियों से काम तो ले रही है। लेकिन उसके पास उनको वेतन देने के लिए पैसा नहीं है। कहा रोडवेज कर्मियों को वेतन न मिलना उनके अधिकारों का हनन है।

आम आदमी पार्टी के पिथौरागढ़ विधान सभा प्रभारी सुशील खत्री के नेतृत्व में रोडवेज वर्कशॉप पहुंचे कार्यकर्ता रोडवेज कर्मियों के साथ धरने पर बैठे। खत्री ने कहा भाजपा पर्वतीय प्रदेश को किस ओर ले जा रही है यह समझ से परे है। अंदाजा लगाया जा सकता है प्रदेश में कर्मचारियों को अपने हक के पैसे के लिए सड़कों पर उतरना पड़ रहा है। कहा रोडवेज कर्मियों ने कोरोना संकट के बीच अपनी व अपने परिवार की परवाह किए बगैर बखूबी अपनी जिम्मेदारी निभाई। बावजूद इसके सरकार उन्हें वेतन नहीं दे रही है। ऊंची कुर्सीयों में बैठने वाले नेताओं को यह पता नहीं है कि रोडवेज कर्मी किन हालातों में दिन गुजार रहे हैं। भाजपा सरकार को कर्मियों का दर्द नहीं दिख रहा। कार्यकर्ताओं ने कहा रोडवेज कर्मियों की सभी मांगे जायज है, जिसका वह समर्थन करते हैं। कहा सरकार उन्हें वेतन न देकर उनके अधिकारों का हनन कर रही है, जिसे किसी भी कीमत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान रोडवेज कर्मियों के साथ आप कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारे लगाए। चेतावनी देते हुए कहा शीघ्र कर्मियों की मांगे नहीं मानी गई तो उनके साथ बढ़ा आंदोलन किया जाएगा। यहां एडवोकेट आलोक चौधरी, राकेश वर्मा, शंकर राम, नवीन कुमार, सुरेश जोशी, गिरीश जोशी, चंद्र प्रकाश पुनेड़ा, जगदीश कलौनी, इमरान अली, संजय जोशी रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:AAP supported the roadways workers 39 strike