DA Image
26 जनवरी, 2020|2:39|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राउमावि हेलंग के फिर से संचालन की उठाई मांग

चमोली जिले के दूरस्थ गांव हेलंग के ग्रामीणों ने अपर निदेशक माध्यमिक से राउमावि हेलंग के फिर से संचालन की मांग की है। ग्रामीणों का कहना है कि गांव में 15 फीसदी ग्रामीण अनुसूचित और बीपीएल परिवार से हैं। जो अपने बच्चों को पठन-पाठन के लिए दूसरे स्थानों में भेजने में असमर्थ हैं। मंगलवार को शिक्षा परिसर पौड़ी में चमोली के हेलंग गांव के ग्रामीण अपर निदेशक माध्यमिक महावीर सिंह बिष्ट से मिले। इस मौके पर पूर्व उप-प्रधान कुंदन लाल ने बताया कि राउमावि हेलंग का संचालन शिक्षा विभाग ने बंद कर दिया है। जिससे गांव के नौनिहालों को हाईस्कूल की शिक्षा लेने के लिए अन्यत्र जाने को मजबूर होना पड़ रहा है। लेकिन अभिभावक अनुसूचित व बीपीएल परिसर से हैं। जो अपने पाल्यों को अन्यत्र पठन-पाठन को भेजने में असहाय हैं। उन्होंने कहा कि गांव में जूनियर हाईस्कूल हेलंग का संचालन हो रहा है। जिसमें 24 बच्चें अध्ययनरत हैं। कहा कि सरकार व शिक्षा विभाग चाहे तो गांव में राउमावि हेलंग का संचालन हो सकता है। कहा कि गांव में कक्षा 9 व 10 के लिए 15 बच्चें हैं। जिससे कक्षा छह से १० तक बच्चों की संख्या 39 हो जाएगी। अपर निदेशक बिष्ट ने ग्रामीणों को सकारात्मक कार्रवाई का आश्वासन देते हुए शिक्षा मंत्री के सामने स्कूल के फिर से संचालन का प्रस्ताव रखने की बात कही। इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता गुरुदीप लाल, गिरीश लाल आदि मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Raised demand for re-operation of Rumavi Helang