DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पौड़ी के शिक्षक आशीष नेगी पेश कर रहे मिसाल

पौड़ी के शिक्षक आशीष नेगी पेश कर रहे मिसाल

1 / 2राजकीय इंटर कालेज एकेश्वर के शिक्षक आशीष नेगी अन्य शिक्षकों के लिए मिसाल पेश कर रहे हैं। शिक्षक आशीष नेगी पढ़ाई के साथ ही क्षेत्र में सामाजिक, संस्कृति और शिक्षा के विभिन्न विषयों की जानकारी देने का...

पौड़ी के शिक्षक आशीष नेगी पेश कर रहे मिसाल

2 / 2राजकीय इंटर कालेज एकेश्वर के शिक्षक आशीष नेगी अन्य शिक्षकों के लिए मिसाल पेश कर रहे हैं। शिक्षक आशीष नेगी पढ़ाई के साथ ही क्षेत्र में सामाजिक, संस्कृति और शिक्षा के विभिन्न विषयों की जानकारी देने का...

PreviousNext

राजकीय इंटर कालेज एकेश्वर के शिक्षक आशीष नेगी अन्य शिक्षकों के लिए मिसाल पेश कर रहे हैं। शिक्षक आशीष नेगी पढ़ाई के साथ ही क्षेत्र में सामाजिक, संस्कृति और शिक्षा के विभिन्न विषयों की जानकारी देने का काम कर रहे हैं। शिक्षक बच्चों को कैरियर काउंसलिंग के साथ ही चित्रकला, थियेटर के साथ ही बच्चों की रूचि को देखते हुए रचनात्मक कार्य सिखा रहे हैं। स्कूल के साथ ही शिक्षक आसपास के गांव में भी ग्रामीणों को विभिन्न जानकारियां दे रहे है। शिक्षक आशीष नेगी ने एकेश्वर क्षेत्र में अपनी अलग ही पहचान भी बना ली है।

राइंका एकेश्वर के कला विषय के शिक्षक आशीष नेगी स्कूल में बच्चों को पढ़ाई के साथ ही कई विषयों की जानकारी देते हैं। आशीष बच्चों को बेकार पड़ी चीजों से उपयोगी वस्तुएं बनाना, थियेटर के गुर, पेंटिग प्रतियोगिता, सफाई अभियान आदि विषयों की जानकारी दे रहे हैं। शिक्षक आशीष बताते हैं कि 17 अक्टूबर 2018 को उन्होंने जयानंद भारती की जयंती पर दगड्डया (दोस्त) समूह बनाया। इस समूह में क्षेत्र के कुछ युवा साथियों ने साथ भी दिया। 14 नवंबर को समूह ने क्षेत्र के 5 स्कूलों में मेरु गौं अर गुठ्यार विषय पर पेंटिग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। साथ ही समय-सयम पर विभिन्न विषयों की जानकारी देने के साथ ही छात्र-छात्राओं को कैरियर काउंसलिंग की भी जानकारी दे जाती है। बीते अप्रैल महीने में छोटे बच्चों के लिए भी जूनियर दगड्डया समूह भी बनाया। जूनियर दगड्डया समूह में शामिल बच्चों की मदद से मई महीने में डस्टबीन बनाए गए और एकेश्वर बाजार में इन डस्टबीनों को वितरित किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pauri s teacher Ashish Negi is presenting the example