DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  नैनीताल  ›  आंचलिक लोक नृत्य में फ्यूजन का तड़का
नैनीताल

आंचलिक लोक नृत्य में फ्यूजन का तड़का

हिन्दुस्तान टीम,नैनीतालPublished By: Newswrap
Sat, 08 Sep 2018 08:21 PM
आंचलिक लोक नृत्य में फ्यूजन का तड़का

शैलेहाल सभागार में शनिवार को देश के विभिन्न प्रांतों के आंचलिक नृत्यों की धूम रही। इस दौरान कलाकारों ने लोकनृत्य में फ्यूजन का तड़का भी लगाया। लोकनृत्य के साथ ही आधुनिक हिपहाप, सालसा आदि के समावेश को दर्शकों ने सराहा। लेक सिटी वैलफेयर क्लब के तत्वावधान में यहां शैलेहाल में इंटर स्कूल नृत्य प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। सीनियर वर्ग में 15 तथा जूनियर वर्ग में 17 कलाकारों ने प्रतिभाग किया। मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक संजीव आर्य ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। इस दौरान एमएल साह बाल विद्या मंदिर के कलाकारों ने लागली कुनाल हिचकी नखरा मारी.. फ्यूजन का समावेश किया तो रामा मांटेसरी ने भूपेंद्र हजारिका के गीत हैया न हैया न.. पर नृत्य किया। बीएसएसवी छम छम बौज्यू हा हा का को सारी..नृत्य कर फ्यूजन का समावेश किया। इसके अलावा चैत की चैतवाल, फूलो फ्युलड़िया आदि गीतों हर हिप हाप, सालस आदि का बेहतर मिश्रण किया गया था। कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि उप निदेशक वाणिज्य कर स्मिता भाष्कर, पूर्व दर्जा राज्यमंत्री शांति मेहरा, कुविवि कार्य परिषद सदस्य अरविंद पडियार, क्लब अध्यक्ष विनीता पांडे, कार्यक्रम संयोजक मधुमिता, गीता पांडे, जीवंती भट्ट, आभा साह, रानी साह, तुसी साह, कविता त्रिपाठी, अर्चना साह, प्रभा अधिकारी, मीनू बुधलाकोटी, बबिता साह, तारा चौधरी, दीपा साह, ममता साह, निशा वर्मा, पूजा साह, ममता जोशी, मीनाक्षी जोशी, पुष्पा साह, सोनू साह, आरती बिष्ट, रेखा जोशी, भानु पंत, सोनू बिष्ट, विश्वकेतु वैद्य आदि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें