DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब एक क्लिक पर मिलेगी नगर के प्रत्येक भवन की जानकारी

शहरी विकास मंत्रालय की अमृत योजना के तहत चयनित प्रदेश के 7 प्रमुख शहरों का अब जीआईएस के माध्यम से नक्शा तैयार किया जाएगा। इसके माध्यम से पालिका के पास मौजूद भवनों का रिकॉर्ड तथा वर्तमान स्थिति की अपडेट रिपोर्ट तैयार की जाएगी। इससे पालिका भवन मूल्यांकन/कर निर्धारण की अग्रिम कार्रवाई कर सकेगी। डाटाबेस तैयार होने पर एक क्लिक पर प्रत्येक भवन की रिपोर्ट मिल सकेगी। बता दें कि केंद्र सरकार की अमृत योजना के तहत प्रदेश के नैनीताल, हल्द्वानी, काशीपुर, रुद्रपुर, देहरादून, रुद्रप्रयाग, हरिद्वार का चयन किया गया है। योजना में इन शहरों का विकास किया जाएगा। इसी क्रम में प्रत्येक शहर का जीआईएस के माध्यम से सर्वे किया जाना है। विश्व बैंक के माध्यम से इसके लिए धनराशि अवमुक्त की जाएगी। केंद्र सरकार की ओर से इस कार्य के लिए 5 निजी कंपनियों का चयन किया गया है।नैनीताल में नगर पालिका की तकनीकी बिड में श्रेष्ठ रही कंसोटियम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड संस्था से कार्य लिया जाना लगभग तय हो गया है। संस्था प्रतिनिधि प्रवीण ने बताया कि इसके माध्यम से नगर का नक्शा तैयार किया जाएगा। इसमें प्रत्येक भवन के संबंध में रिपोर्ट होगी। इसके आधार पर पालिका अपने पूर्व सर्वे से मिलान कर भविष्य का भवन मूल्यांकन/कर निर्धारण कर सकेगी। प्रत्येक भवन की विस्तृत रिपोर्ट होने से पालिका को अन्य कई लाभ मिलेंगे। सफाई, पानी, बिजली कूड़ा प्रबंधन आदि में अपग्रेड होने पर नगर व नगरवासियों को सरकार से विकास के अनुरूप ए बी सी ग्रेड समेत 80 फीसदी से ऊपर ग्रेडिंट पर स्मार्ट सिटी के अनुरूप धन मिल सकेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:now a click on the information of every building in the city