DA Image
19 सितम्बर, 2020|11:42|IST

अगली स्टोरी

प्राण प्रतिष्ठा के बाद मां नंदा-सुनंदा मूर्ति को दर्शनार्थ खोला

default image

नगर में बुधवार ब्रह्ममुहूर्त में मां नंदा-सुनंदा की प्राण प्रतिष्ठा के बाद नंदा देवी महोत्सव की विधिवत शुरुआत हो गई है। हालांकि इस वर्ष कोरोना संक्रमण के चलते प्रशासन की गाइडलाइन के अनुसार श्रद्धालु सीधे दर्शन नहीं कर पाएंगे, लेकिन निजी ताल चैनल के माध्यम से इसका सीधा प्रसारण किया जा रहा है। इसके अलावा सोशल मीडिया व्हाट्सएप और फेसबुक आदि के माध्यम से श्रद्धालुओं को मैया के दर्शन कराए जा रहे हैं।

यूं तो बीती 23 अगस्त को महोत्सव की शुरुआत हो गई थी। बुधवार को नंदाष्टमी के दिन ब्रह्ममुहूर्त में प्राण प्रतिष्ठा के बाद मुख्य धार्मिक महोत्सव की शुरुआत हुई। पूजन कार्यक्रम पंडित भगवती प्रसाद जोशी ने कराए जबकि मुख्य यजमान घनश्याम साह रहे। इसके बाद देवी मूर्तियों को दर्शनार्थ खोल दिया गया। हालांकि लॉकडाउन के चलते मंदिर में लोगों का प्रवेश वर्जित है, लेकिन निजी चैनल ओर सोशल मीडिया से इसका प्रसारण किया जा रहा है। मुख्य मंडप की जिम्मेदारी राजेंद्र बजेठा, भीम सिंह कार्की, विमल चौधरी, मनोज जोशी, जगदीश बवाड़ी आदि लगे हुए हैं। महोत्सव में प्रो.ललित तिवारी, डा. मोहित सनवाल, हेमंत बिष्ट, नवीन पांडे, मीनाक्षी कार्ति के माध्यम से समय-समय मेले के बारे में जानकारी दी जा रही है तथा अतिथियों के साथ आयोजन को लेकर परिचर्चा की जा रही है। रात्रि में 9 बजे पूजन में भीम सिंह कार्की सपत्नी बैठे। रात्रि 12 बजे देवी भोग के बाद अष्टमी के धार्मिक अनुष्ठानों को पारायण हुआ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Maa Nanda-Sunanda idol opened after the Pran Pratishthan