election became interesting by contest senior advocate - वरिष्ठ अधिवक्ता के आने से रोचक हुआ मुकाबला DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वरिष्ठ अधिवक्ता के आने से रोचक हुआ मुकाबला

हाईकोर्ट बार चुनाव में वरिष्ठ अधिवक्ता भुवन चंद्र पांडे के अध्यक्ष पद पर चुनाव मैदान में उतरने से मुकबला रोचक हो गया है। वहीं अध्यक्ष और सचिव पद के दो उम्मीदवार पहले इस पद की शोभा बढ़ा चुके हैं। इनमें अध्यक्ष पद के उम्मीदवार सैय्यद नदीम मून और सचिव पद के कमलेश तिवारी शामिल हैं। सचिव पद के दूसरे उम्मीदवार जयवर्धन कांडपाल पहली बार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इधर हाईकोर्ट में अवकाश के बावजूद सभी प्रत्याशी अपना चुनाव प्रचार करने में लगे हैं। चुनाव के तहत 25 अप्रैल को मतदान और चुनाव परिणाम घोषित होंगे।बता दें कि हाईकोर्ट में एक निश्चित प्रक्रिया को पूरा करने के बाद ही वकील वरिष्ठ अधिवक्ता नामित होते हैं। वर्तमान में 28 अधिवक्ता वरिष्ठ अधिवक्ता की सूची में शामिल हैं। इनमें सबसे सीनियर भुवन चंद्र पांडे पहली दफा हाईकोर्ट बार के चुनाव में भागीदारी कर रहे हैं। हालांकि पहले भी कुछ वरिष्ठ अधिवक्ता चुनाव लड़ चुके हैं। इधर, अध्यक्ष पद के दूसरे उम्मीदवार सैय्यद नदीम मून पहले अध्यक्ष रह चुके हैं। तीसरे उम्मीदवार दिनेश कुमार त्यागी पहले चुनाव लड़ चुके हैं। वहीं अन्य उम्मीदवार सुरेश चंद्र भट्ट और पूरन सिंह बिष्ट बार के अन्य पदों पर रह चुके हैं। बार के सचिव पद के प्रत्याशी कमलेश कुमार तिवारी भी पहले सचिव रह चुके हैं। उनके एक मात्र प्रतिद्वंद्वी जयवर्धन कांडपाल छात्र राजनीति से आए हैं। चमोली जिले के राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय गोपेश्वर में छात्रसंघ अध्यक्ष रह चुके कांडपाल पहली दफा अपनी भाग्य आजमा रहे हैं। उनका कहना है कि अधिवक्ता और वादकारियों के लिए हाउसिंग-पार्किंग की समस्या के समाधान के लिए प्रयास को प्राथमिकता दी जाएगी। चैंबर निर्माण और सेमिनार और कांफ्रेंस कराने के लिये ठोस पहल की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:election became interesting by contest senior advocate