DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नैनो तकनीक के क्षेत्र में कुमाऊं विवि की उपलब्धि को मिलेगा नया आयामा : प्रो.राणा

नैनो तकनीक के क्षेत्र में कुमाऊं विवि की उपलब्धि को मिलेगा नया आयामा : प्रो.राणा

कुमाऊं विवि के कुलपति प्रो. केएस राणा ने कहा कि कुमाऊं विवि ने नैनो साइंस एवं नैनो प्रोद्योगिकी के क्षेत्र में अहम सफलता हासिल की है। विवि के डीएसबी परिसर के रसायन विज्ञान विभाग के अधीन चल रहे सेंटर ने नैनो तकनीक से पर्यावरण के लिए घातक बन चुके प्लास्टिक के सदुपयोग की बाकायदा तकनीक इजाद की है। सेंटर से माध्यम से 24 मई से शुरू होने जा रहे तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सेमिनार से विवि की इस उपलब्धि को नया आयाम मिलेगा। कुलपति प्रो. राणा बुधवार को विवि मुख्यालय में सेमिनार को लेकर पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे।उन्होंने कहा कि वैज्ञानिकों को प्रयोगशाला तक सीमित नहीं रहना चाहिए। शोध का उपयोग समाज के लिए किया जाना चाहिए। अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का यहीं उद्देश्य है। सेमिनार में चार विदेशी प्रतिभागी के साथ ही कुल 218 वैज्ञानिक भाग लेने जा रहे हैं। यहां डीएसबी परिसर रसायन विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. आनंद बल्लभ मेलकानी ने नैनो तकनीक को लेकर हासिल की गई उपलब्धि की जानकारी दी। बताया कि अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस का उद्घाटन बीएचयू के वीसी प्रो. राकेश भटनागर करेंगे। पूर्व राज्यसभा सांसद तरुण विजय विशिष्ट अतिथि होंगे। कांफ्रेंस का विषय ‘सतत पर्यावरण एवं प्रबंधन तथा उर्जा, क्रियात्मक सामग्री एवं नैनो प्रोद्योगिकी रखा गया है। यहां कांफ्रेंस के संयोजक प्रो. नंद गोपाल साहू, डीन साइंस प्रो. गंगा बिष्ट, आयोजक सचिव प्रो. चित्रा पांडे, संयोजक डॉ. गीता तिवारी, प्रो.ललित तिवारी, विधान चौधरी आदि रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:achievement of KU in nano science will get a new dimension prof rana