DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोटद्वार में वकीलों ने एसओजी के खिलाफ खोला मोर्चा

कोटद्वार बार एसोसिएशन की बैठक में बुधवार को अधिवक्ता प्रवेश रावत के साथ एसओजी प्रभारी द्वारा की गई अभद्रता पर भड़के वकीलों ने मोर्चा खोल दिया है। निर्णय हुआ कि अगर तीन दिन के भीतर एसओजी प्रभारी के खिलाफ उचित कार्रवाई नहीं की गई तो अधिवक्ता आंदोलन करने को बाध्य होंगे।गुरुवार को तहसील परिसर स्थित बार रूम में आयोजित बैठक में वक्ताओं ने कहा कि कोर्ट परिसर में अभियुक्तों की जमानत प्रार्थना पत्र दाखिल करवाने के लिए एडवोकेट प्रवेश रावत जमानतियों और पैरोकार के साथ मौजूद थे। इसी दौरान एसओजी प्रभारी अपने स्टाफ के साथ पैरोकारों और जमानतियों को जबरन खींचकर बाहर लाने लगे। आरोप है कि प्रवेश रावत ने जब इसका विरोध किया तो उनके साथ भी अभद्रता की गई। वक्ताओं ने कहा कि इस घटना से अधिवक्ताओं के सम्मान को भारी ठेस पहुंची है। कोर्ट परिसर के अंदर इस तरह की घटना का होना दुभार्ग्यपूर्ण है और आरोपी एसओजी प्रभारी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। इस मौके पर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय पंत, सचिव आशुतोष देवरानी, कोषाध्यक्ष शोभा बहुगुणा भंडारी, उपाध्यक्ष अरविन्द चौधरी, सहसचिव इन्द्रेश भाटिया, पूर्व अध्यक्ष पंकज भट्ट, भानु प्रकाश बलोदी, अमिताभ अग्रवाल, लाजवंती भट्ट, अमित बडोला, प्रमोद राणा, उमेश बिष्ट समेत कई वकील मौजूद थे। एएसपी प्रकाश वर्मा का कहना है कि अधिवक्ता के साथ किसी भी तरह का अभद्र व्यवहार नहीं किया गया है और अगर ऐसा है तो मामले की जांच कराई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Lawyers in Kotdwar opened against police