DA Image
22 अक्तूबर, 2020|5:40|IST

अगली स्टोरी

बुजुर्गों की सेवा करने पर दिया जोर

बुजुर्गों की सेवा करने पर दिया जोर

ग्रामीण विकास विज्ञान समिति की ओर से विश्व वृद्ध दिवस के मौके पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें वक्ताओं ने कहा कि हमें अपने बड़े बुजुर्गों को हर दिन मान-सम्मान देकर उनकी सीख और अनुभवों का लाभ लेना चाहिए।भाबर क्षेत्र के अन्तर्गत पदमपुर मोटाढांक स्थित एक बारातघर में आयोजित गोष्ठी में वक्ताओं ने कहा कि हमें अपने बड़े बुजुर्गों की उनकी ढलती उम्र में उसी प्रकार के स्नेह व धैर्य के साथ सेवा करनी चाहिए जैसी कभी उन्होंने बचपन में हमारी निस्वार्थ भाव से हमारी परवरिश की। नई पीढ़ी को सुसंस्कृत बनाने के लिए बुजुर्गों का योगदान हमेशा रहता है। आज भी बुजुर्गों के अनुभव और सीख को आत्मसात कर भावी पीढ़ी नई सोच के साथ विकास की ओर अग्रसर हो रही है। समिति के संयोजक रोशन लाल कुकरेती ने कहा की वर्तमान समय में वृद्धों की ज्यादा चिंता करने की आवश्यकता है हमें वृद्धाश्रम खोलने की बजाय वृद्धों की समस्याओं के लिए काम करना चाहिए। गोष्ठी में विनोद कुकरेती, रामकुमार अग्रवाल, संग्राम सिंह भंडारी, जनार्दन बुड़कोटी, शशि प्रभा, योगेंबर रावत, सीपी ध्यानी, बीपी ध्यानी, एमएस नेगी, राजगौरव नौटियाल, गौरव जोशी, जगमोहन रावत, भास्कर काला, सत्यपाल, आलोक आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Emphasis placed on serving the elderly