DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंड कोटद्वारभारतीय संस्कृति के विलुप्त होने पर जताई चिंता

भारतीय संस्कृति के विलुप्त होने पर जताई चिंता

हिन्दुस्तान टीम,कोटद्वारNewswrap
Tue, 28 Sep 2021 12:30 PM
भारतीय संस्कृति के विलुप्त होने पर जताई चिंता

आर्य समाज कोटद्वार की ओर से परिवार मिलन समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें अजमेर राजस्थान से पधारे आचार्य ओमदेव द्वारा भारतीय संस्कृति के विलुप्त होने पर चिंता व्यक्त की गई।

नजीबाबाद रोड स्थित आर्य समाज सत्संग भवन में आयोजित कायर्क्रम में आचार्य ओमदेव ने कहा कि संस्कृति से ही हमारी पहचान होती है। संस्कृति से ही देश, जाति या समुदाय के उन समस्त संस्कारों का बोध होता है। यह हमें जीवन का अर्थ, जीवन जीने का तरीका सिखाती है। लेकिन वर्तमान में भारतीय संस्कृति अपने मूल लक्ष्य से भटक गई है। जो कि चिंता का विषय है। कहा कि अब हालात ऐसे हैं कि संस्कृति के विषय पर विस्तारपूर्वक चर्चा करने की आवश्यकता है, जिससे पुनः भारतीय संस्कृति को प्राचीन अवस्था में लाकर उसका अस्तित्व बचाया जा सके।

इस मौके पर आर्य समाज के पुरोहित रामवीर गौड़, महेंद्र सैनी, देवकी, आनंद, महेश वर्मा, अनिल अग्रवाल, प्रभुदयाल, अनिल, शशि सिंघल, मीना अग्रवाल, अजय ग्रोवर, मन्नू ग्रोवर, हिमांशु आदि मौजूद रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें