DA Image
27 नवंबर, 2020|2:34|IST

अगली स्टोरी

सड़क हादसे में स्कूटी सवार सेना के हवलदार की मौत

default image

काशीपुर। हमारे संवाददाता

रिश्तेदारी से स्कूटी में दो बेटियों के साथ घर लौट रहे सेना के हवलदार की सड़क हादसे में मौत हो गई। जबकि दोनों बेटियां घायल हो गईं। घायल बेटियों एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। उधर, हादसे की सूचना मिलती ही परिवार में कोहराम मच गया।

मूल रूप से पौढ़ी गढ़वाल और हाल निवासी सैनिक विहार पीरूमदारा, रामनगर निवासी देवेंद्र रावत (38) पुत्र वचन सिंह मध्यप्रदेश के जबलपुर में बंगाल इंजीनियर में हवलदार के पद पर तैनात था। वह 10 अक्तूबर को एक महीने के अवकाश पर घर आए थे। रविवार को वह परिवार के साथ हल्दुआ, रामनगर किसी रिश्तेदारी में गए हुए थे। जहां से देर रात वह अपनी दो बेटियों निहारिका (12) और रिषिता (11) के साथ स्कूटी से घर लौट रहे थे। इसी दौरान हिम्मतपुर के पास किसी अज्ञात वाहन की चपेट में आकर फौजी और उसकी दोनों बेटी घायल हो गए। हादसे के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। किसी ने घटना की सूचना परिजनों को दी। तब गंभीर रूप से घायल फौजी देवेंद्र और बेटियों को एलडी भट्ट सरकारी अस्पताल लाया गया। जहां हालत गंभीर होने पर डॉक्टर ने फौजी देवेंद्र को हायर सेंटर रेफर कर दिया। जबकि दोनों बेटियों को रामनगर रोड स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, परिजन गंभीर रूप से घायल फौजी को हल्द्वानी ले जा रहे थे, लेकिन उसने रास्ते में दम तोड़ दिया। इससे परिवार में कोहराम मच गया। इधर सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उधर, सोमवार को पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे परिजनों ने बताया देवेंद्र अपनी पीछे एक बेटा, दो बेटी, पत्नी रीना रावत, माता विमला देवी और पिता के अलावा अन्य परिजनों को रोता-बिलखता छोड़ गए हैं। बताया जा रहा है मृतक तीन भाई और एक बहन में दूसरे नंबर का था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Scooter-riding army constable dies in road accident