DA Image
28 सितम्बर, 2020|3:32|IST

अगली स्टोरी

निजी स्कूलों ने सरकार से मांगा सहायता राशि पैकेज

निजी स्कूलों ने सरकार से मांगा सहायता राशि पैकेज

बाजपुर। निजी स्कूल संचालकों की एक बैठक हुई। इसमें स्कूल प्रबंधकों को सहायता उपलब्ध कराने की मांग की गई। साथ ही स्कूल प्रबंधकों ने इस बार शिक्षक दिवस को काला दिवस के रूप में मनाये जाने की भी चेतावनी दी है। इन मांगों को लेकर स्कूल संचालकों ने एसडीएम के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भी भेजा है।स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय कुमार विज ने कहा कि लॉकडाउन का सबसे अधिक असर यदि किसी को पड़ा है तो वह निजी स्कूल संचालक और उन स्कूलों से जुड़े शिक्षक व अन्य स्टाफ है। अजय कुमार ने कहा कि क्षेत्र के स्कूलों ने शिक्षा को रुकने नहीं दिया है। ऑनलाइन के माध्यम से स्कूल के शिक्षक कड़ी मेहनत कर बच्चों को शिक्षा देने का कार्य कर रहे हैं। वहीं उपाध्यक्ष हरमिंदर सिंह बरार ने कहा कि अन्य लोगों को मदद की भांति सरकार को भी स्कूलों को सहायता राशि पैकेज उपलब्ध कराया जाना चाहिये। इससे अभिभावकों व स्कूलों पर कम भार पड़े। बरार ने कहा कि अगर सरकार जल्द ही इस गंभीर विषय का संज्ञान नहीं लेती है तो वह दिन दूर नहीं जब निजी स्कूल इन खर्चों को पूरा करने में असमर्थ हो जायेंगे। बैठक का संचालन अनमोल विज ने किया। इसके बाद इन लोगों ने एसडीएम एपी बाजपेयी के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भी भेजा। मौके पर हरमिंदर बरार, परमीन कौर सिद्धू, प्रभा बिष्ट, इंदरजीत कौर, देवेंद्र रावत, सुरेंद्र कहलो, सुरेंद्र शर्मा, विकल्प शर्मा, योगेश कुमार आदि अनेकों स्कूल संचालक रहे।शिक्षक दिवस को लेकर सोच अलगबाजपुर। मान्यता प्राप्त निजी विद्यालय प्रबंध संघ के अध्यक्ष देवेंद्र रावत ने बताया कि उपरोक्त सभी मांगों के साथ उनके स्कूल संचालक भी खड़े हैं लेकिन शिक्षक दिवस को काला दिवस मनाने को लेकर उनकी सोच अलग है। देवेंद्र रावत ने बताया कि उनके संगठन से जुड़े विद्यालय शिक्षक दिवस का मनायेंगे। उन्होंने सक्षम अभिभावकों से स्कूल फीस जमा करने का अनुरोध किया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Private schools asked for a package of assistance from the government