DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंड काशीपुरजसपुर में चार राइस मिलों पर नहीं होगी धान की तौल

जसपुर में चार राइस मिलों पर नहीं होगी धान की तौल

हिन्दुस्तान टीम,काशीपुरNewswrap
Sat, 16 Oct 2021 05:50 PM
जसपुर में चार राइस मिलों पर नहीं होगी धान की तौल

सरकारी मूल्य से कम दरों पर धान खरीदने को लेकर हुए हंगामे के बाद चार मिलों में मिलर अब सरकारी धान नहीं तौलेंगे। उन्होंने एमएमआई, मंडी सचिव को पत्र देकर इस बाबत उनका धान खरीद कोड निरस्त कर एफडीआर दिलाने की मांग की है।

शुक्रवार को हल्दुआ दो राइस मिलों पर धान बेचने को लेकर मिलर्स एवं किसानों में विवाद हो गया था। बाद में विधायक आदेश चौहान ने राइस मिलर्स एवं भाकियू नेताओं का समझौता करा दिया था। शनिवार को जीके इंड., बीएल राइस मिल, गुरुकृपा एवं हल्दुआ राइस मिल के स्वामियों ने एसएमआई एवं मंडी सचिव को पत्र देकर धान खरीद का कोड निरस्त कर उनकी एफडीआर दिलाने की मांग की। पत्र में मिलर ने निजी कारणों के चलते धान खरीद में असमर्थता जताई है। एसएमआई नलनी कांत ने बताया कि मिलरों ने कोर्ड निरस्त करने को आवेदन पत्र दिया है। बताया कि राइस मिलर कच्चे आढ़ती होते हैं। इन्हें हर बार धान खरीद को विभाग कोड उपलब्ध कराता है। बताया कि पत्रों को आरएफसी को कार्रवाई के लिए भेजा जायेगा।

बारिश में धान भीगा तो विभाग होगा जिम्मेदार: भाकियू

जसपुर। भाकियू नेताओं ने एसडीएम और एमएमआई से मिलकर कहा कि मंडी परिसर में खुले आसमान के नीचे धान पड़ा है। धान को उठाने की व्यवस्था नहीं की जा रही है। उन्होंने रविवार सोमवार को बारिश का अनुमान बताते हुए धान को उठाने की मांग की। चेताया कि धान भीगा तो विभाग जिम्मेदार होगा। एसडीएम सीमा विश्वकर्मा ने अफसरों को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। इस मौके पर एसएमआई नलनीकांत, कौशल कुमार, मंडी सचिव सहील अहमद, प्रेम सहोता, सरजीत ढिल्लो, अमनप्रीत सिह आदि मौजूद रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें