DA Image
5 मार्च, 2021|8:23|IST

अगली स्टोरी

काशीपुर। हमारे संवाददाता

default image

बहुउद्देशीय शिविर में 90 शिकायतें पंजीकृत की गई। जिनमें से 72 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण कर दिया। इस दौरान दर्जा राज्य मंत्री, विधायक, मेयर समेत अन्य अधिकारियों ने विभागीय स्टॉलों का निरीक्षण कर योजनाओं की जानकारी ली। दर्जा मंत्री ने स्टॉलों में मौजूद अधिकारियों और कर्मचारियों से योजनाएं और उनका लाभ लेने वाले लाभार्थियों के ऑकड़े विधायक को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

सोमवार को ब्लॉक परिसर में डीएम के प्रतिनिधि के रुप में आये जिला विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी की मौजूदगी में बहुउद्देशीय शिविर आयोजित किया गया। शिविर में पहुंचे दर्जा मंत्री राजेश कुमार, विधायक हरभजन सिंह चीमा, मेयर ऊषा चौधरी ने विभागीय स्टॉलों का निरीक्षण कर जानकारी ली। शिविर में समाज कल्याण विभाग की 55, ग्राम्य विकास की दो, राजस्व विभाग की 26, विद्युत विभाग की सात समेत कुल 90 शिकायतें आई। जिसमें से 72 शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया। शिविर में पहुंचे लोगों को विभागीय योजनाओं की जानकारी देने के साथ स्वास्थ्य विभाग ने मेडिकल प्रमाणपत्र भी मौके पर ही जारी किये। वहीं वृद्धावस्था, दिव्यांग, किसान, विधवा पेंशन तथा बस पास भी वितरितकिये गये। इस मौके पर संयुक्त मजिस्ट्रेट गौरव सिंघल, तहसीलदार विपिन चंद्र पंत, बीईओ आरएस नेगी, ब्लॉक प्रमुख अर्जुन कश्यप, डॉ. गिरीश तिवारी आदि मौजूद रहे।

पट्टों की भूमि पर पात्रों को कब्जा न मिलने का आरोप

काशीपुर। बहुउद्देशीय शिविर में दभौरा मुस्तहकम के ग्रामीणों ने अनुसूचित जाति के लोगों को जारी पट्टों पर कब्जा नही कराने का आरोप लगाया। कहा कि पट्टों की भूमि पर एक दबंग द्वारा अवैध खनन किया जा रहा है। मामले को कुमाऊं कमिश्नर के जनसुनवाई दिवस में रखा गया था। निस्तारण के दौरान भूमि पैमाइश का आश्वासन दिया गया था, लेकिन कोई कार्रवाई नही हुई। आरोप लगाया कि क्षेत्र में तैनात हल्का लेखपाल सात साल से इसी जगह तैनात हैं। उन्होंने पट्टों पर कब्जा दिलाने की मांग की।