DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › काशीपुर › बाजपुर से चार दर्जन किसान पहुंचे गाजीपुर बॉर्डर
काशीपुर

बाजपुर से चार दर्जन किसान पहुंचे गाजीपुर बॉर्डर

हिन्दुस्तान टीम,काशीपुरPublished By: Newswrap
Wed, 26 May 2021 05:30 PM
दिल्ली के गाजीपुर में चल रहे किसान आंदोलन को धार देने के लिये चार दर्जन से अधिक किसान गाजीपुर पहुंचे। यहां इन किसानों ने 26 मई को किसान संगठनों के...
1 / 2दिल्ली के गाजीपुर में चल रहे किसान आंदोलन को धार देने के लिये चार दर्जन से अधिक किसान गाजीपुर पहुंचे। यहां इन किसानों ने 26 मई को किसान संगठनों के...
दिल्ली के गाजीपुर में चल रहे किसान आंदोलन को धार देने के लिये चार दर्जन से अधिक किसान गाजीपुर पहुंचे। यहां इन किसानों ने 26 मई को किसान संगठनों के...
2 / 2दिल्ली के गाजीपुर में चल रहे किसान आंदोलन को धार देने के लिये चार दर्जन से अधिक किसान गाजीपुर पहुंचे। यहां इन किसानों ने 26 मई को किसान संगठनों के...

बाजपुर। संवाददाता

बाजपुर से बुधवार तड़के करीब 50 से अधिक किसान जगतार सिंह बाजवा की अगुवाई में निजी वाहनों से गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना हुए। जहां वह किसान संगठन की ओर से 26 मई काला दिवस घोषित कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगे।

बुधवार तड़के किसान नेता जगतार बाजवा के साथ बेरिया, बन्नाखेड़ा, केशोवाला आदि क्षेत्रों के करीब 50 किसान निजी वाहनों से गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना हुए। इन किसानों ने वहां पहुंचकर सबसे पहले बुद्ध पूर्णिमा पर आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। फिर उन्होंने किसान नेता राकेश टिकैत के साथ बॉर्डर पर जलाए गए केंद्र सरकार के पुतले कार्यक्रम में भी प्रतिभाग किया। किसान नेता बाजवा ने बताया छह माह बाद भी किसान पहले की ही तरह जोश के साथ बॉर्डर पर काले कानूनों के खिलाफ खड़े हैं। कहा गेहूं कटाई बुआई आदि के चलते किसानों की संख्या बॉर्डर पर जरूर कुछ कम हुई थी, लेकिन अब फिर से किसानों के बॉर्डर पर पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है। उन्होंने क्षेत्र से पहुंचने वाले किसानों का आभार जताया। इस मौके पर कुलदीप सिंह, जनकवि बल्ली सिंह चीमा, दिलेर सिंह रंधावा, रमन कंबोज, अवतार सिंह, अमन सिंह, दिलदीप सिंह, गुरमुख सिंह, मेहर सिंह आदि किसान रहे।

संबंधित खबरें