Friday, January 21, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंड काशीपुरजसपुर में मोबाइल पर गन्ना पर्ची मैसेज देख गदगद हुए किसान

जसपुर में मोबाइल पर गन्ना पर्ची मैसेज देख गदगद हुए किसान

हिन्दुस्तान टीम,काशीपुरNewswrap
Sat, 27 Nov 2021 01:00 PM
जसपुर में मोबाइल पर गन्ना पर्ची मैसेज देख गदगद हुए किसान

जसपुर। संवाददाता

गन्ने की फसल तैयार होने के बाद नादेही चीनी मिल कर्मियों ने किसानोंं को सुविधा देने के उददेश्य से भेजे गए गन्ना पर्ची मैसेज मिलने से किसान गदगद है। जिन किसानों के मोबाइल अपडेट नहीं है। उन्हे मैसेज भेजने की कवायद की जा रही है।

क्षेत्र में गन्ने की फसल तैयार है। मिल भी चालू हो चुकी है। किसानों को गन्ने की आर्पिूत के लिए मिल प्रशासन पर्ची भेजने की व्यवस्था करता है। पहले किसानों को मिल से पर्ची मिलती थी। लेकिन इस बार व्यवस्था का बदला गया है। प्रधान प्रबंधक विवेक प्रकाश ने मिल अफसरों की बैठक लेकर गन्ना पर्ची को सुचारू करने के निर्देश दिए। जीएम विवेक प्रकाश ने बताया कि किसानों की सुविधा के लिए गन्ना पर्ची का मैसेज मोबाइल पर भेजना शुरू कर दिया है। बताया कि अफसरों ने किसानों की सूची तैयार कर गन्ना सुपरवाइजरों को दे दी गई है। किसान मैसेज मिलने के बाद सुपरवाइजर से मिलकर अपना नाम, नंबर एवं आधार को दुरूस्त करा रहा है। मिलान होने के बाद सेंटर पर गन्ने की तौल की जा रही है। इसके बाद किसान को वजन पर्ची दी जा रही है। बताया कि किसी कारणवश किसान निर्धारित समय पर अपना गन्ना नहीं तुलवा पाता है तो वह इसकी सूचना गन्ना समिति पर देकर पर्ची ले सकता है। बताया कि मिल से करीब आठ हजार किसान जुड़े है। इनमे कुछ किसानों को छोड़कर अधिकांश किसानों का मोबाइल अपडेट हो चुका है। उन्हे पर्ची मैसेज भेजे जा रहे है। उन्होंने किसानों से अपील की है कि जो किसान अपना मोबाइल नंबर,पता आदि बदल चुके है। वह मिल में आकर नाम, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड संबंधी कागज देकर लिस्ट में अपना नाम दुरूस्त करा लें।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें