DA Image
23 जनवरी, 2021|10:05|IST

अगली स्टोरी

फर्म के डीजीएम पर कब्जे में कार रखने का आरोप

default image

जसपुर। हमारे संवाददाता

एक फर्म स्वामी ने अपने दिल्ली निवासी डीजीएम को काम के लिए दी कार नहीं लौटाने का आरोप लगाया है। कहा है कि डीजीएम ने कार लौटाने के बजाय उस पर कब्जा कर लिया। फर्म स्वामी ने डीजीएम के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

नगर निवासी निखिल मोहन सिंघल पुत्र पुष्पेंद्र मोहन सिंघल की नगर में ग्लोब पैनल नाम से एक फर्म है। उन्होंने अपनी फर्म में राजीव कौशल निवासी एफ 270 सरस्वती कुंज अपार्टमेंट दिल्ली को सेल्स विभाग में डीजीएम के पद पर एनसीआर दिल्ली एरिया के लिए नौकरी पर रखा था। उसे व्यापारिक कार्य के लिए मार्च 20 में फर्म के कार्यालय पर व्यापारिक वार्तालाप के लिए बुलाया था। डीजीएम ने अपनी कार खराब होने का बहाना बनाया। इस पर निखिल मोहन के पिता पुष्पेंद्र मोहन सिंघल ने डीजीएम को शिवहरी प्लाईवुड के नाम से पंजीकृत कार दे दी। डीजीएम ने पिता पुत्र को विश्वास दिलाया था कि वह अपनी कार ठीक होने के बाद उनकी कार वापस कर देगा। जब उन्होंने कार मांगी तो लॉकडाउन लगने का बहाना बनाता रहा। अब वह कार देने से साफ इंकार कर रहा है। कोतवाल एनबी भट्ट ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:DGM of the firm accused of keeping car in possession