ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंड काशीपुरहिंग्लिश की बढ़ती प्रवृत्ति पर जताई चिंता

हिंग्लिश की बढ़ती प्रवृत्ति पर जताई चिंता

राधेहरि राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में साहित्यिक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें वर्तमान समय में हिन्दी विषय की प्रासंगिकता और बढ़ते हुई...

हिंग्लिश की बढ़ती प्रवृत्ति पर जताई चिंता
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,काशीपुरThu, 22 Sep 2022 07:00 PM
ऐप पर पढ़ें

राधेहरि राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में साहित्यिक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें वर्तमान समय में हिन्दी विषय की प्रासंगिकता और बढ़ते हुई हिंग्लिश प्रवृति के प्रति चिंता व्यक्त की गई।

गुरुवार को कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्य डॉ. चंद्र राम और कुविवि की हिन्दी विभागाध्यक्षा डॉ. नीरजा टंडन ने किया। डॉ. नीरजा टंडन ने कहा हिन्दी विश्व को जोड़ने वाली भाषा है।प्राचार्य डॉ. चंद्र राम ने कहा हिन्दी एक भाषा ही नहीं बल्कि भारतीय संस्कृति का मूल आधार है। सभी धर्मों के साहित्यकारों ने हिन्दी के विकास में अहम भूमिका का निर्वाह किया है। कार्यक्रम का संचालन हिन्दी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. सुभाष चन्द्र सिंह कुशवाहा ने किया। यहां डॉ. ज्योति जोशी, डॉ. आरसी कश्यप, डॉ. रीता सवान, डॉ. रीता देवी, डॉ. संतोष कुमार, डॉ. स्नेहलता, डॉ. कुवर पाल सिंह, डॉ. मीना शर्मा, डॉ. महेंद्र जोशी, डॉ. ममतेश कुमारी रहीं।

epaper